December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

अखिलेश ने रिक्शे वाले मनीराम के बहाने थपथपायी सरकार की पीठ, बसपा सुप्रीमो मायावती पर भी ली चुटकी

धनतेरत को जब मनीराम को रिक्शा मिला तो वह परिवार को बैठाकर रिक्शे से ही सौ किलोमीटर अपने गांव त्यौहार मनाने गया।

Author लखनऊ | October 29, 2016 17:02 pm
लखनऊ में गुरुवार (27 अक्टूबर, 2016) को ट्रैफिक जाम की वजह से पेटीएम के सीईओ अपनी गाड़ी छोड़कर रिक्शे पर सवार हुए और मुख्यमंत्री आवास पहुंचे। (फोटो क्रेडिट – अखिलेश यादव ट्विटर अकाउंट)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने रिक्शे वाले मनीराम का उल्लेख करते हुए शनिवार (29 अक्टूबर) को अपनी सरकार की पीठ थपथपायी। मुख्यमंत्री ने विभिन्न बिजली परियोजनाओं का लोकार्पण करते हुए मनीराम का जिक्र किया। ‘पेटीएम के सीईओ मुझसे मिलने आ रहे थे लेकिन शहर में बहुत जाम लगा था। वह अपनी बड़ी गाड़ी छोड़कर रिक्शे पर बैठ गए और रिक्शा चालक मनीराम को मुख्यमंत्री आवास चलने को कहा।’ अखिलेश ने कहा, ‘जब मुझे ये बात पता चली तो मैं खुद दरवाजे पर उनका स्वागत करने आया। इसलिए नहीं कि वो बड़े आदमी हैं बल्कि इसलिए कि उन्होंने बड़ी गाड़ी छोड़कर रिक्शे वाले को मुख्यमंत्री आवास आने का मौका दिया।’

उन्होंने कहा कि मनीराम से जब पूछा कि खुद का रिक्शा है तो वह बोला कि नहीं किराये पर चलाता है। आम तौर पर अधिकांश रिक्शे वाले यही कहते हैं कि किराये पर रिक्शा चलाते हैं। ‘हमने रिक्शे वाले को मालिक बनाया और शाम को उसे नया रिक्शा दिया। धनतेरत को जब उसे रिक्शा मिला तो वह परिवार को बैठाकर रिक्शे से ही सौ किलोमीटर अपने गांव त्यौहार मनाने गया।’ अखिलेश ने कहा, ‘ये समाजवादी सरकार और उसके लोग हैं। समाजवादी लोगों के काम करने का तरीका यही है। हमारा कार्यकर्ता भी यही काम करता है। अगर रिक्शे वाले में ये हौसला है तो सोचिए हमारे अंदर कितना हौसला होगा। अगले चुनाव में यही युवा पूरे हौसले के साथ नयी सरकार बनाने का काम करेंगे।’ बातों बातों में मुख्यमंत्री बसपा सुप्रीमो मायावती का जिक्र करना नहीं भूले। उन्होंने कहा कि मनीराम की पत्नी का नाम उनकी बुआ से मिलता जुलता है। अखिलेश अकसर अपने भाषणों में मायावती को बुआ जी कहकर संबोधित करते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 29, 2016 5:02 pm

सबरंग