ताज़ा खबर
 

अखिलेश यादव ने प्रचार के लिए बनवाया 5 करोड़ का रथ, लिफ्ट भी लगी है, पत्रकारों को नहीं मिली छूने की इजाजत

2017 विधानसभा चुनाव के लिए यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कमर कस ली है। प्रचार के लिए उनका रथ भी तैयार है। रथ से अखिलेश जनता को समाजवादी पार्टी की सरकार के विकास कार्यों के बारे में बताएंगे।
अखिलेश यादव का हाईटेक समाजवादी विकास रथ आया सामने। (PTI Photo)

2017 विधानसभा चुनाव के लिए यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कमर कस ली है। चुनाव प्रचार के लिए उनका वाहन भी तैयार हो गया है। इसी गाड़ी से अखिलेश यादव पूरे प्रदेश में घूम-घूमकर जनता को समाजवादी पार्टी की सरकार के विकास कार्यों के बारे में बताएंगे। अखिलेश यादव की विकास यात्रा गुरुवार से शुरू हो रही है। मंगलवार को समाजवादी रथ उनके आवास 5 कालिदास मार्ग स्थिट उनके आवास पर पहुंचा। समाजवादी रथ लोगों के सामने आते ही आकर्षण का केंद्र बन गया। दरअसल समाजवादी विकास रथ मर्सिडीज की एक 10 टायर वाली बस है, जिसे मोडिफाई करके रथ का रूप दिया गया है। खबरों के मुताबिक मीडियाकर्मियों से कहा गया है कि वह रथ को सिर्फ देखा जा सकता हैं, छूने नहीं सकते हैं। कुछ रिपोर्ट्स में इस बात की कीमत 5 करोड़ बताई गई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि जानकारों का मानना है कि जिस तरह का रथ बना है उसके निर्माण में पांच करोड़ रुपये खर्च हुए होंगे।

समाजवादी विकास रथ की खासियत
जितना दिखाई दे रहा है उस हिसाब से समाजवादी रथ में एक हाइड्रोलिक लिफ्ट लगी है। लिफ्ट से अखिलेश यादव को ऊपर उठाया जा सकता है, जिससे वह सड़क पर पब्लिक मीटिंग को संबोधित कर सकते हैं। लिफ्ट के अलावा बस में सीसीटीवी कैमरा, एलसीडी टेलीविजन, सोफा और आराम करने के लिए बेड भी है। बस एक लाउडस्पीकर भी फिट है जिसमें समाजवादी सरकार के विकास कार्यों का एक कैपेन सॉन्ग बजेगा। साथ ही इंटरनेट कनेक्टिविटी, वाई-फाई जैसी सुविधाएं भी हैं। लेटेस्ट खबरों पर नजर रखने के लिए बस में बड़ी टीवी स्क्रीन लगी है। बस पर सीएम अखिलेश यादव का साइकिल चलाते हुए एक बड़ा फोटोग्राफ लगा हुआ है। बस के सामने की ओर साइकिल का फोटो है, जो कि समाजवादी पार्टी का चुनाव चिन्ह है। समाजवादी रथ के पीछे पार्टी सुप्रीमो और पिता मुलायम सिंह यादव की दो फोटो लगी हुई है।

वीडियो: समाजवादी पार्टी की ‘विकास रथ यात्रा’ में एक साथ दिखे अखिलेश, शिवपाल और मुलायम; चुनाव प्रचार अभियान की हुई शुरुआत

कल से शुरू होगा शक्ति प्रदर्शन

गौरतलब है कि अखिलेश अपनी ‘विकास से विजय तक रथ यात्रा’ की शुरुआत तीन नवम्बर को लखनऊ से करेंगे। इसके लिये दफ्तर से लेकर घर तक की तमाम जरूरतों को पूरा करने की सुविधाओं वाला एक बसनुमा रथ बनाया गया है। सपा सूत्रों के मुताबिक अखिलेश के काफिले में पांच हजार से ज्यादा चारपहिया वाहन होंगे। इस दौरान जनता को यह संदेश देने की कोशिश की जाएगी कि अखिलेश सपा के चेहरे के तौर पर सबसे ज्यादा स्वीकार्य हैं। मुख्यमंत्री के खेमे के नेता इस रथयात्रा को भव्य और जोरदार बनाने की तैयारियों में जी-जान से जुटे हैं। इन नेताओं में हाल में सपा से निष्कासित नेता भी शामिल हैं। मुख्यमंत्री के एक समर्थक का कहना है कि रथयात्रा दरअसल शक्ति का प्रदर्शन होगी। वह सपा मुखिया को यह दिखाना चाहते हैं कि अखिलेश ही सपा के सबसे लोकप्रिय नेता हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग