December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

रेल हादसे के बाद से पिता को खोज रही है होने वाली दुल्हन, 10 दिन बाद है शादी

कानपुर के पास हुए हादसे में अब तक 100 से ज्यादा मौत हो चुकी हैं।

रूबी की शादी दस दिन बाद होने वाली है। (Photo Source: PTI)

इंदौर-पटना एक्सप्रेस के दुर्घटनाग्रस्त होने से 20 वर्षीय रूबी गुप्ता पर दुख का पहाड़ टूट पड़ा है। जल्द ही दुल्हन बनने जा रही रूबी हादसे के बाद से अपने लापता पिता को खोज रही हैं। रूबी के एक हाथ की हड्डी टूट गई है। उनकी शादी एक दिसंबर को होनी है और इसके लिए वह इंदौर से आजमगढ़ के मऊ जा रही थीं। भाई-बहनों में सबसे बड़ी रूबी के साथ उनकी बहनें 18 वर्षीय अर्चना तथा 16 वर्षीय खुशी, भाई अभिषेक तथा विशाल और पिता राम प्रसाद गुप्ता थे। उनके पिता हादसे के बाद से लापता हैं। इस परिवार के साथ उनके पारिवारिक दोस्त राम प्रमेश सिंह भी यात्रा कर रहे थे।

रूबी ने कहा, ‘मैंने हर जगह देखा लेकिन मुझे मेरे पिता नहीं मिले। कुछ लोगों ने मुझे उन्हें अस्पताल और मुर्दाघर में खोजने को कहा है लेकिन मुझे समझ नहीं आ रहा कि अब मैं क्या करूं। मैं नहीं जानती कि अब मेरी शादी निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक होगी या नहीं। अभी तो मैं पिता को ढूंढना चाहती हूं।’ रूबी अपने साथ शादी के कपड़े और गहने लेकर चली थीं, वह भी उन्हें नहीं मिल रहे। उन्होंने अभी तक शिकायत दर्ज नहीं करवाई है।

बता दें,  कानपुर देहात जिले में रविवार तड़के इंदौर-पटना एक्‍सप्रेस ट्रेन (19321) के 14 डिब्बों के पटरी से उतर गई। रेल के पटरी से उतरने के कारणों का अभी तक पता नहीं लगाया जा सका है। इस हादसे में अब तक 100 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। यूपी के लॉ एंड ऑर्डर के एडीजी दलजीत सिंह चौधरी ने बताया कि अभी तक हादसे में 100 से ज्यादा की मौत हो चुकी है और बचाव कार्य जारी है। चौधरी ने साथ ही बताया कि हादसा देहात जिले से करीब 100 किमी दूर पुखरायां में सुबह 3 बजे के बाद हुआ, तब यात्री सो रहे थे। हादसे में ट्रेन के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए। सबसे ज्यादा मौते S1 और S2 में हुई हैं। हादसे के दौरान यात्री एक दूसरे के ऊपर आ गिर, और कोच आपस में टकराकर बुरी तरह से पिचक गए।

वीडियो में देखें- टूटने के कगार पर शादी, कार्ड दिखाने के बावजूद बैंक मैनेजर ने कहा- नहीं दे सकते ढाई लाख रुपए

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 20, 2016 2:13 pm

सबरंग