December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

नोटबंदी का असर: हिन्दू शादी में व्यंजन हुए कम, मुस्लिम निकाह, वलीमे फरवरी-मार्च तक टले

बांसमंडी इलाके के नवाज मैरिज हाल के संचालक अफजाल अहमद ने बताया कि इस महीने होने वाले 16 निकाह और वलीमे के आयोजन स्थगित किए गए है।

Author कानपुर | November 17, 2016 15:45 pm
कानपुर की एक दुकान में हिन्दू देवता के आगे रखा 1000 रुपए का पुराना नोट। (REUTERS/Adnan Abidi/9 Nov, 2016)

शादियों के लिये बुक गेस्ट हाउस, कैटरिंग और रेस्टोरेंट पर नोटबंदी का खासा असर देखने को मिल रहा है। जिन हिन्दू परिवारों में विवाह हैं वो लोग मेन्यू में से व्यंजन कम कर रहे हैं और मुस्लिम परिवारों में मैरिज हॉल की बुकिंग रद्द करवाकर शादियां मार्च और अप्रैल तक टाली जा रही है। नोटबंदी के कारण होटल और रेस्टोरेंटों में रोजाना की ग्राहकी और किट्टी पार्टी जैसे आयोजनों की बुकिंग पर करीब 30 से 40 प्रतिशत तक असर पड़ा है। कानपुर शहर में करीब 300 गेस्ट हाउस और 100 मैरिज लॉन है। यूपी होटल एवं रेस्टोरेंट एसोसिएशन की ओर से प्राप्त जानकारी के मुताबिक शादी के इंतजाम के लिये चेक से भुगतान किए जा रहे हैं या उधार पर काम चलाया जा रहा है।

दूसरी ओर, जिन मुस्लिम परिवारों में नवंबर या दिसंबर में शादी होनी थी उनकी तारीख अब फरवरी से अप्रैल तक बढ़ा दी गई है। रजबी रोड के अकबर मैरिज हाल के मालिक मो फैसल ने बताया, ‘इस महीने और अगले महीने होने वाली करीब 20 मुस्लिम परिवारों की शादियां स्थगित या रदद की गयी है क्योंकि लोगों के पास अदा करने के लिये नये नोट नही है। अब इन शादियों की बुकिंग फरवरी से अप्रैल के बीच की जाएगी।’

बांसमंडी इलाके के नवाज मैरिज हाल के संचालक अफजाल अहमद ने बताया कि इस महीने होने वाले 16 निकाह और वलीमे के आयोजन स्थगित किए गए है। लोगों से जो एडवांस लिया गया था वह या तो वापस किया जा रहा है या आगे कि किसी तारीख में बुकिंग कराने पर उसे एडजस्ट किया जा रहा है। नोटबंदी से रेस्टोरेंट का व्यवसाय भी करीब 30 फीसदी कम हो गया है, एक रेस्टोरेंट के मालिक पंकज खत्री बताते है कि अब इक्का दुक्का परिवार या बिजनेस ग्रुप ही रेस्टोरेंट में आ रहे है। पहले हफ्ते में कम से कम तीन किट्टी पार्टियां होती थी लेकिन नौ नवंबर के बाद से एक भी पार्टी नहीं हुई है। होटल लैंड मार्क के अवधेश द्विवेदी ने बताया कि नौ नवंबर के बाद से होटल में किसी भी शादी या पार्टी की बुकिंग नहीं हुई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 17, 2016 3:45 pm

सबरंग