ताज़ा खबर
 

शहीद के पिता ने कहा- “बेटे की शहादत पर गर्व, मगर कब तक चलेगा पाकिस्तान का मुद्दा”

पाकिस्तान द्वारा कश्मीर के माछिल सेक्टर में सेना के गश्ती दल पर घात लगाकर हमला किया गया था, जिसमें भारत के तीन जवान शहीद हो गए थे।
पिता के शहीद होने पर विलाप करते परिवार वाले, शहीद मनोज कुशवाह (दायें)। (Photo: ANI)

जम्मू-कश्मीर के माछिल में मंगलवार को पाकिस्तान ने घात लगातार भारतीय सैनिकों पर हमला किया था। इसमें तीन भारतीय जवान शहीद हो गए थे। शहीद हुए 57 राष्ट्रीय रायफल्स के गनर मनोज कुशवाह, राइफलमैन प्रभु सिंह और राइफलमैन शशांक कुमार सिंह के घरों में मातम पसरा है। शहीद होने वाले जवानों में दो यूपी के थे, वहीं एक राजस्थान से था। जहां गनर मनोज कुशवाह और राइफलमैन शशांक कुमार सिंह यूपी के गाजीपुर जिले से थे, वहीं राइफलमैन प्रभु सिंह राजस्थान के जोधपुर के रहने वाले थे।

बुधवार को गनर मनोज कुशवाह के पिता ने कहा कि उन्हें अपने बेटे की शहादत पर गर्व है। दिल्ली में काम करने वाले मनोज के पिता ने कहा, “गर्व है मेरे बेटे ने देश के लिए जान दी, लेकिन जब तक पाकिस्तान का मुद्दा खत्म नहीं होगा, जवान यूं ही मरते रहेंगे।” मनोज के भाई ने बताया कि जब उनकी मनोज से बात हुई थी तब उन्होंने घर आने के लिए कहा था। उसने कहा, “2-3 दिन छुट्टी पर आने वाले थे। मुझसे टिकट के लिए भी कहा था। फिर ये खबर आ गई।”

बता दें कि पाकिस्तान द्वारा कश्मीर के माछिल सेक्टर में सेना के गश्ती दल पर घात लगाकर हमला किया गया था, जिसमें भारत के तीन जवान शहीद हो गए थे। एक शहीद के शव क्षत-विक्षत किए जाने की घटना भी सामने आई थी।  जिसके बाद सेना ने इसका भारी प्रतिशोध लेने का संकल्प लिया था। उत्तरी कमान के प्रवक्ता ने मंगलवार को ट्वीट किया था, “माछिल में नियंत्रण रेखा पर ड्यूटी के दौरान तीन भारतीय जवान शहीद। एक शहीद के शव को क्षत-विक्षत किया गया।” उन्होंने लिखा था, “इस कायराना हरकत का बदला भारी पड़ेगा।” इससे पहले 28 अक्तूबर को भी इसी सेक्टर में एक भारतीय जवान के शव के साथ बर्बरता की गई थी।

अन्य ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक करें

जम्मू-कश्मीर: बुधवार सुबह पाकिस्तान ने फिर किया सीजफायर का उल्लंघन

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग