May 23, 2017

ताज़ा खबर

 

गाड़ी में लग गई टक्कर तो नाइजीरियन छात्रों ने पहले युवक से की मारपीट फिर उसकी बहन के कपड़े फाड़ डाले

कार से टक्कर होने के बाद दोनों छात्रों ने कार चला रहे युवक की गाड़ी को रोकवा कर उसे बाहर निकाल लिया।

इसके बाद दोनों पक्ष के बीच बहसबाजी हुई और नाइजीरियन छात्रों ने युवक के साथ मारपीट शुरु कर दी।(सांकेतिक तस्वीर)।

उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में स्थानीय लोगों द्वारा दो नाइजीरियन छात्रों के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक स्थानीय लोगों ने नाइजीरियन छात्रों की पिटाई इसलिए की है क्योंकि उन्होंने वहीं की रहने वाली लड़की के साथ बदतमीजी की। पुलिस ने इस मामले में केस दर्ज कर लिया है। इस मामले में कासना थाने के एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि जब दोनों नाइजीरियन छात्र सेक्टर अल्फा 1 से बाइक पर सवार होकर गुजर रहे थे, तो उनकी टक्कर एक कार से हो गई। कार से टक्कर होने के बाद दोनों छात्रों ने गाड़ी को रुकवा कर कार चला रहे युवक को बाहर निकाल लिया।

इसके बाद दोनों पक्ष के बीच काफी बहसबाजी हुई जिसके बाद नाइजीरियन छात्रों ने युवक के साथ मारपीट शुरु कर दी। इसके विरोध में जब कार चालक की बहन ने दोनों नाइजीरियन को ऐसा करने से मना किया तो उन्होंने लड़की के साथ भी मारपीट की और उसके कपड़े तक फाड़ दिए। इस घटना की जानकारी लड़की के परिजनों को मिली तो वे मौके पर पहुंच गए, जिसके बाद परिजनों और स्थानीय लोगों ने मिलकर नाइजीरियन छात्रों की जमकर पिटाई की।

वहीं मामले की सूचना मिलते ही कासना पुलिस भी मौके पर पहुंची और दोनों तरफ से मामले को सुलझाने की कोशिश करने लगी। काफी देर तक जब दोनों पक्ष शांत नहीं हुए तो पुलिस उन्हें थाने ले गई जहां पर दोनों पक्ष ने एक दूसरे की गलती बताते हुए केस दर्ज करा दिया। फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है कि गलती किसकी है। पुलिस का कहना है कि पूरे मामले की जांच करने के बाद ही पता चल पाएगा कि इसमें कौन-सा पक्ष मुख्य आरोपी है।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश में नाइजीरियन्स द्वारा मारपीट करने का यह पहला मामला नहीं है। पिछले साल भी एक नाइजीरियन द्वारा एक कैब ड्राइवर के साथ पैसों के लेन-देन की वजह से मारपीट करने का मामला सामने आया था।

देखिए वीडियो - नोएडा की कंपनी ने 7 लाख लोगों से की 3700 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी; 3 लोग गिरफ्तार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 10, 2017 2:24 pm

  1. No Comments.

सबरंग