ताज़ा खबर
 

माफी मांगने के बावजूद जावेद हबीब के सैलून में हिंदू संगठन ने की तोड़फोड़, ग्राहक भी फंसे

हिंदू जागरण मंच के क्षेत्रीय सचिव विमल द्विवेदी ने कहा कि हिंदू देवी देवताओं का अपमान किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।
Author उन्नाव | September 9, 2017 16:22 pm
मशहूर हेयर स्टाइलिस्ट जावेद हबीब। फोटो सोर्स- इंडियन एक्सप्रेस)

हेयर स्टाइलस्टि जावेद हबीब के एक विज्ञापन में हिंदू देवी देवताओं के अपमानजनक चित्रण से नाराज गुस्साई भीड़ ने शनिवार को उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में स्थित जावेद हबीब सैलून में तोड़फोड़ की। पुलिस के मुताबिक, हिंदू जागरण मंच के नेतृत्व में भीड़ ने राजधानी लखनऊ के करीबी जिले मोतीनगर में स्थित ब्यूटी सैलून में तोड़फोड़ की। भीड़ ने जब सैलून पर धावा बोला, तब कुछ ग्राहक भी वहां फंसे थे। हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने सैलून के मालिक को अपना सैलून बंद करने और ऐसा न करने पर अंजाम भुगतने की धमकी दी, जिसके बाद मामले को लेकर पुलिस शिकायत दर्ज की गई।

पुलिस की एक टीम ने सैलून पहुंचकर वहां मौजूद कुछ प्रत्यदर्शियों से घटना की बाबत पूछताछ की। हिंदू जागरण मंच के क्षेत्रीय सचिव विमल द्विवेदी ने कहा कि हिंदू देवी देवताओं का अपमान किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा, “हम सैलून नहीं चलने देंगे।” ‘गॉड्स टू विजिट जेएच सैलून’ के कैप्शन वाले विवादास्पद विज्ञापन को लेकर हैदराबाद में हबीब के खिलाफ मामला भी दर्ज किया गया है। हबीब हालांकि मामले में माफी मांग चुके हैं। उनका कहना है कि यह विज्ञापन कोलकाता में उनके एक पार्टनर ने छपवाया था, जिसकी उन्हें जानकारी नहीं थी।

हैदराबाद में दो अलग-अलग शिकायतों पर पुलिस ने बताया कि वह शिकायतों का सत्यापन कर रही है और कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। अधिवक्ता के करूणा सागर ने कल सैदाबाद पुलिस थाने में एक शिकायत दर्ज कराई है जिसमें कहा गया है कि उन्होंने सोशल मीडिया पर जावेद हबीब द्वारा एक समाचार पत्र में दिए गए विज्ञापन की तस्वीर देखी जिसमें हिंदू देवी देवताओं का अपमानजनक तरीके से चित्रण किया गया था। उन्होंने कहा कि विज्ञापन में कैप्शन लिखा था ‘‘भगवान भी जेएच सैलून जाते हैं।’’ इस कैप्शन ने उनकी धार्मिक भावनाओं को आहत किया। सागर ने शिकायत में जावेद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.