ताज़ा खबर
 

अल्पसंख्यक समुदाय की गरीब लड़कियों का निकाह कराएंगे योगी आदित्यनाथ, देंगे मेहर

अखिलेश यादव के शासनकाल में बीपीएल परिवारों को 20,000 रुपए लड़कियों की शादी के लिए दिए जाते थे।
यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अपने सरकारी आवास पर अल्पसंख्यक समुदाय की महिलाओं की परेशानी सुनते हुए। (एक्सप्रेस फोटो)

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार मुसलमानों सहित अल्पसंख्यक समुदाय की गरीब लड़कियों का सामूहिक विवाह आयोजित करेगी। प्रदेश के अल्पसंख्यक मामलों के राज्य मंत्री मोहसिन रजा ने आज (13 अप्रैल को) कहा, ‘‘मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अल्पसंख्यक समुदाय की गरीब लड़कियों के सामूहिक विवाह आयोजित करने पर सहमति दे दी है और हमने इसे राज्य सरकार के 100 दिवसीय कार्यक्रम में शामिल किया है।’’ उन्होंने बताया कि प्रस्ताव तैयार है। हर लड़की को 20 हजार रूपये की आर्थिक सहायता देने के अलावा सरकार सामूहिक विवाह में होने वाले अन्य खर्च भी वहन करेगी।

रजा ने कहा कि अल्पसंख्यक समुदाय के लिए सामूहिक विवाह करने का विचार खुद मुख्यमंत्री का है। इसमें मुस्लिम समुदाय के अलावा सिख और ईसाई जैसे अन्य अल्पसंख्यक समुदाय की लड़कियां भी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि योजना को केंद्र सरकार की सहायता से चलाया जाएगा। इसके लिए अल्पसंख्यक मामलों का विभाग सद्भावना मंडप बनाएगा। रजा ने कहा कि पहले इसे पायलट परियोजना के रूप में चलाया जाएगा। परिणाम अच्छे रहे तो सरकार इसे आगे बढ़ाएगी। यह योजना गरीब परिवारों के लिए तैयार की जाएगी।

जब पत्रकारों ने रजा से पूछा कि मुसलमानों में लड़के वालों की तरफ से लड़की को मेहर दिया जाता है, क्या इस पर भी कुछ खर्च होगा क्योंकि लड़के वाले भी गरीब होंगे। इस पर मोहसिन रजा ने कहा कि जो पैसा बच्चियों और बहनों की शादी के लिए खर्च होगा उसे मेहर समझ लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि शादी पूरे इस्लामी रीति रिवाज से सामूहिक तौर पर एक कार्यक्रम में होगी। गौरतलब है कि अखिलेश यादव के शासनकाल में बीपीएल परिवारों को 20,000 रुपए लड़कियों की शादी के लिए दिए जाते थे।

वीडियो: 'सुदर्शन न्यूज' के संपादक गिरफ्तार; नफरत फैलाने, धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग