April 30, 2017

ताज़ा खबर

 

सहारनपुर: भाजपा सांसद ने एसएसपी के आवास पर की तोड़फोड़, शोभायात्रा विवाद पर इलाके में तनाव

प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था दलजीत चौधरी ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है।

Author April 21, 2017 22:08 pm
प्रतीकात्मक तस्वीर

उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में गुरुवार को डॉ. भीमराव अंबेडकर शोभायात्रा निकालने के बवाल ने सांप्रदायिक रूप ले लिया। पथराव व आगजनी में कई लोग घायल हुए हैं। सहारनपुर के थाना जनकपुरी क्षेत्र के सड़क दूधली में डॉ. भीमराव अंबेडकर शोभायात्रा निकालने को लेकर दो संप्रदाय में गाली-गलौज, पथराव, लूटपाट, आगजनी की घटना हुई। पथराव में चार भाजपा कार्यकर्ता घायल हुए। इस बवाल में कमिश्नर की गाड़ी तोड़ दी गई। यहां हाइवे पर तोड़फोड़ के चलते सहारनपुर-रूड़की-देहरादून हाइवे पर वाहनों का आवागमन रुक गया।
तनाव का असर शहर पर भी पड़ा है। बाजारों में एकाएक सन्नाटा पसर गया। पूरे जिले में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है।

घटना से गुस्साए लोगों ने एसएसपी लव कुमार के आवास पर प्रदर्शन किया। इस दौरान बीजेपी नेताओं ने लोगों के साथ मिलकर एसएसपी आवास के सीसीटीवी कैमरे, नेम प्लेट भी तोड़ दिए। कई लोगों ने कुछ दुकानों में भी तोड़फोड़ की और सामान लूट लिया है। इस दौरान पथराव के चलते डीएम और एसएसपी ने भागकर अपनी जान बचाई। इस दौरान पुलिस के भी कई वाहनों में तोड़फोड़ की गई। कमिश्नर की गाड़ी पर भी पथराव किया गया।

दरअसल, वहां बिना अनुमति के शोभायात्रा निकाली जा रही थी। इस शोभायात्रा का कुछ स्थानीय लोगों ने विरोध किया जिसके बाद दोनों गुटों में हिंसक झड़प शुरू हो गई। देखते ही देखते वहां पथराव और आगजनी शुरू हो गई। घटना की सूचना मिलते ही भाजपा सांसद राघव लखन पाल शर्मा समर्थकों के साथ वहां पहुंच गए। इसके बाद उन्होंने दोबारा शोभायात्रा निकालने की मांग की लेकिन प्रशासन ने इसकी इजाजत नहीं दी। एसएसपी ने बताया कि शोभायात्रा निकालने पर पहले से ही प्रतिबंध लगा है और मौजूदा हालात में इसकी परमिशन नहीं दी जा सकती है। इससे भाजपा कार्यकर्ता गुस्सा गए और एसएसपी के आवास पर विरोध-प्रदर्शन करने लगे।

डीआईजी जितेंद्र कुमार शाही ने बताया कि आसपास के जनपदों से पुलिस बल मंगवाया है। प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था दलजीत चौधरी ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है। उनका कहना है कि वहां शोभा यात्रा को लेकर अनुमति नहीं दी गई थी। घटना में जो भी दोषी हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, सड़क दूधली में डा. भीमराव अंबेडकर शोभायात्रा निकालने को लेकर भाजपा सांसद राघव लखन पाल शर्मा, पूर्व विधायक राजीव गुंबर आदि भाजपा नेता आज सुबह से ही प्रशासन से अनुमति लेने के लिए प्रयासरत थे। दो घंटे तक चली बैठक में तय हुआ कि शोभायात्रा गांव के बाहर से ही निकाली जाएगी। शोभा यात्रा शुरू हुई तो उसे गांव में प्रवेश दे दिया गया, फिर क्या था कि एक विशेष संप्रदाय के लोगों ने इसको लेकर गाली-गलौच के साथ पथराव शुरू कर दिया।

पथराव में चार भाजपा कार्यकर्ता घायल हो गए। मौके पर डीएम एमएस कमाल व एसएसपी लवकुमार भी पहुंच गए। यहां पर इन सभी ने बवाल कर रहे लोगों को काफी समझाने का प्रयास किया पर कोई नहीं माना। पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भिजवाया। कुछ ही देर बाद एकाएक फिर पथराव शुरू हो गया। सड़क दूधली गांव के अंदर व हाइवे स्थित दुकानों में लूटपाट कर उनमें तोड़फोड़ की गई। कई दुकानों में आगजनी भी की गई।

कमिश्नर एमपी अग्रवाल मौके पर पहुंचे तो उनकी गाड़ी पर भी पथराव किया गया, जिस कारण उनकी गाड़ी के शीशे टूट गए। हाइवे पर पथराव, आगजनी की घटना होने से सहारनपुर से रुड़की व देहरादून जा रहे वाहन शहर के चैराहे पर ही रोक दिया। सड़क दूधली में हिंसा की सूचना ने इस कदर जोर पकड़ा कि शहर के मुख्य बाजारों में एकाएक सन्नाटा पसर गया है। अभी मौके पर स्थिति तनावपूर्ण है।

वीडियो: सिविल सर्विस डे पर पीएम मोदी बोले- "गुणात्मक परिवर्तिन के लिए, समय के साथ काम में सुधार करें"

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on April 21, 2017 10:00 pm

  1. No Comments.

सबरंग