March 24, 2017

ताज़ा खबर

 

मंत्रियों के बाद अफसरों को भी यूपी सीएम योगी आदित्‍यनाथ का फरमान- 15 दिन में दें संपत्ति और आयकर का ब्‍योरा

मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी जावीद अहमद से मुलाकात में कहा कि बेहतर पुलिसिंग के लिए 15 दिनों में उनके सामने ब्लूप्रिंट पेश किया जाए।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ। ( Photo Source: PTI)

उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भ्रष्टाचार पर अपनी प्रतिबद्धता दिखाते हुए निर्देश दिया है कि सभी नौकरशाह 15 दिनों के अंदर अपनी कुल आय और संपत्ति का ब्योरा दें। मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश पुलिस के डीजीपी जावीद अहमद से मुलाकात में कहा कि बेहतर पुलिसिंग के लिए 15 दिनों में उनके सामने ब्लूप्रिंट पेश किया जाए। इसमें सभी जिलों के पुलिस अफसरों से राय भी लेने को कहा गया है। उनके आज देर शाम सभी मंत्रालयों के प्रधान सचिवों से मुलाकात की भी उम्मीद है। उन्होंने बसपा नेता मोहम्मद शमी की बदमाशों द्वारा की गई हत्या पर भी शोक जताया है।

मुख्यमंत्री के इस कदम से साफ अंदाजा लगाया जा सकता कि वे उत्तर प्रदेश में वीआईपी कल्चर और भ्रष्टाचार को जड़ से उखार फेंकना चाहते हैं। इससे पहले उन्होंने रविवार को कैबिनेट की पहली बैठक में मंत्रियों से आय और संपत्ति का ब्योरा 15 दिनों के अंदर देने की बात कही थी। इसके साथ ही उन्होंने मंत्रियों के लाल बत्ती के प्रयोग पर भी रोक लगाई थी।

इससे पहले कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा और सिद्धार्थनाथ सिंह ने मीडिया को बताया था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘भ्रष्टाचार’ को समाप्त करने के संकल्प के तहत मुख्यमंत्री ने सभी मंत्रियों को अपनी आय और चल अचल संपत्ति का ब्यौरा उपलब्ध कराने को कहा है।

शर्मा ने बताया था कि मुख्यमंत्री ने सभी कैबिनेट सदस्यों से आग्रह किया कि ‘जनादेश’ विकास के लिए मिला है। ये जनादेश बिजली, पानी, सड़क, कानून व्यवस्था, शिक्षा, स्वास्थ्य और किसान की बदहाली दूर करने तथा विकास और सुरक्षा के लिए मिला है। साथ ही मुख्यमंत्री योगी ने मंत्रिपरिषद के सहयोगियों को नसीहत दी कि वे अनावश्यक टिप्पणी से बचें ताकि किसी की भावना आहत न हो। उत्तर प्रदेश ‘उत्तम प्रदेश’ बने, यही हम सबका संकल्प है।

गौरतलब है कि रविवार को योगी आदित्यनाथ ने यूपी के 21वें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली। उनके साथ दो उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा समेत 22 कैबिनेट मंत्रियों ने भी शपथ ली है। लखनऊ के कांशीराम स्मृति उपवन में हुए समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, मुरली मनोहर जोशी, लालकृष्ण आडवाणी समेत कई बड़े नेता शामिल हुए। समारोह में 9 राज्यों के मुख्यमंत्री के साथ पूर्व सीएम अखिलेश यादव और मुलायम सिंह यादव मौजूद थे।

देखिए वीडियो - यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा- ''भाजपा बिना पक्षपात के समाज के सभी वर्गों के भलाई के लिए काम करेगी''

ये वीडियो भी देखिए - बीजेपी सांसद योगी आदित्यनाथ बोले- “पश्चिमी उत्तर प्रदेश की स्थिति 1990 के कश्मीर जैसी”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 20, 2017 5:13 pm

  1. A
    anonymous
    Mar 20, 2017 at 6:48 pm
    how much tax we need to pay, all burden is on citizens and nothing on politicians
    Reply
    1. M
      manish agrawal
      Mar 20, 2017 at 5:34 pm
      hindu agenda lagoo karna ek baat hai,GUNDARAAJ khatam karna bhi koi badi baat nahi kyuki Police jese hi GUNDON ka support karna band karti hai GUNDARAAJ khud khatam ho jata hai ! par CORRUPTION khatam karna kisi ke bas ka nahi kyuki HAR SHAAKH PE ULLOO BETHAA HAI ,ANJAAM-E-GULISTAAN KYA HOGA ? CORRUPTION kewal tabhi khatam kiya jaa sakata hai jab har ek IAS officer ka NARCO-ANALYSIS karaya jaye aur corrupt paaye jaane par SAZAA-E- MAUT de di jaye. yadi IAS officers corruption nahi kar paayenge to wo kisi aur ko karne bhi nahi denge !
      Reply

      सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

      सबरंग