ताज़ा खबर
 

मुख्यमंत्री पद के लिए किसी चेहरे को पेश किये बिना उत्तराखंड चुनाव में उतर सकती है भाजपा

भाजपा नेता ने कहा कि उनकी पार्टी पहले भी मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया बिना कई राज्यों में चुनाव जीत चुकी है।
Author देहरादून | October 19, 2016 21:15 pm
भारतीय जनता पार्टी के झंडे

पार्टी में मुख्यमंत्री पद के लिए कई दावेदारों के बीच उत्तराखंड में भाजपा किसी चेहरे को पेश किये बिना विधानसभा चुनाव में उतर सकती है ।
भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में इस बाबत संकेत देते हुए कहा, ‘‘हमने इस विषय में अब तक कोई निर्णय नहीं लिया है और हम नहीं समझते कि यह जरूरी है।’’ उनसे पूछा गया था कि क्या अगले साल होने वाले चुनाव से पहले पार्टी मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करेगी।

भाजपा नेता ने कहा कि उनकी पार्टी पहले भी मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित किया बिना कई राज्यों में चुनाव जीत चुकी है। उन्होंने कहा, ‘‘हमने झारखंड में मुख्यमंत्री पद के किसी चेहरे को आगे नहीं किया, फिर भी हम जीते । महाराष्ट या गुजरात में भी हमने ऐसा कुछ नहीं किया लेकिन फिर भी हम दोनों राज्यों में जीते । हम नहीं समझते कि यह जरूरी है ।’’  हालांकि, उन्होंने इस संबंध में किसी तरह की संभावना को पूरी तरह खारिज भी नहीं किया और कहा कि अभी तक पार्टी ने मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार के बारे में कुछ तय नहीं किया है ।

यूपी चुनाव सर्वे: BJP सबसे आगे, मायावती मुख्यमंत्री पद के लिए पहली पसंद

राजनीतिक प्रेक्षकों का मानना है कि पिछले विधानसभा चुनावों के मुकाबले, इस बार भाजपा को मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करना उतना आसान नहीं है क्योंकि पार्टी में इस पद के लिये कई उम्मीदवार हैं । पूर्व मुख्यमंत्री और मौजूदा सांसद भगत सिंह कोश्यारी, भुवन चंद्र खंडूरी और रमेश पोखरियाल निशंक जैसे पार्टी के पुराने दिग्गज नेताओं के अलावा इसी साल पार्टी में शामिल पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा भी हैं ।

यह पूछे जाने पर कि हाल में कांग्रेस से पार्टी में शामिल हुए पूर्व कांग्रेस विधायकों को भाजपा किस प्रकार समायोजित करेगी, विजयवर्गीय ने कहा कि वे सब अब भाजपा के समर्पित कार्यकर्ता बन चुके हैं और पार्टी नेतृत्व के कहने के अनुसार वे कार्य करेंगे ।
उन्होंने कहा कि अगर पार्टी उन्हें टिकट देगी तो वे चुनावी समर में उतरेंगे और अगर उन्हें टिकट नहीं मिलता तो वे पार्टी में वैसे ही कार्य करते रहेंगे जैसे अभी कर रहे हैं ।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.