ताज़ा खबर
 

यूपी में फिर ट्रेन हादसा, राज्यरानी इंटरसिटी के आठ डिब्बे पटरी से उतरे, योगी आदित्य नाथ ने किया मुआवजे का ऐलान

यूपी में राजरानी इंटरसिटी ट्रेन के पटरी से उतरने का मामला सामने आया है।

मेरठ-लखनऊ राज्यरानी एक्सप्रेस के आठ डिब्बे शनिवार (15 अप्रैल) को उत्तर प्रदेश में रामपुर के पास पटरी से उतर गए जिसमें कम से कम दो लोग घायल हो गए। उत्तर रेलवे के प्रवक्ता नीरज शर्मा ने बताया कि हादसा मुण्डा पांडे और रामपुर रेलवे स्टेशन के बीच हुआ। उन्होंने बताया कि हादसे में दो यात्री – अमित कटियार और मेघ सिंह घायल हुए हैं लेकिन इसमें किसी के मारे जाने की सूचना नहीं है। रेल मंत्री सुरेश प्रभु और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रामपुर के पास हुए रेल हादसे में गंभीर रूप से घायल हुए यात्रियों के लिए 50,000-50,000 रच्च्पये के मुआवजे की घोषणा की। रेल मंत्री ने हादसे की जांच के आदेश दिए हैं। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने ट्विटर पर लिखा, ‘‘व्यक्तिगत तौर पर स्थिति पर नजर रख रहा हूं। वरिष्ठ अधिकारियों को मौके पर जाने के आदेश दिए हैं.. वे त्वरित राहत एवं बचाव अभियान सुनिश्चित करेंगे।’’ प्रभु ने कहा कि घटना में दोषी पाए गए लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

प्रवक्ता ने बताया कि मुरादाबाद मंडल रेलवे प्रबंधक :डीआरएम: बचाव एवं राहत कार्यों का जायजा लेने के लिए घटनास्थल पर पहुंच गए हैं। चिकित्सक दल भी मौके पर पहुंच गया है। रेलवे ने यात्रियों एवं उनके परिजनों के बीच बातचीत कराने के लिए अलग अलग स्टेशनों पर हेल्पलाइन नंबर शुरू किए हैं। ये हेल्पलाइन नंबर इस तरह हैं: मेरठ (0121-2401215), नयी दिल्ली (011-23341074, 23342954), पुरानी दिल्ली (011-23962389, 23967332), निजामुद्दीन (011-24359748), मुरादाबाद (1072), बरेली (0581-2558161, 2558162), लखनऊ (0979430975, 05222-37677)।

हालांकि इससे पहले रामपुर में पुलिस अधिकारियों ने हादसे में 15 यात्रियों के घायल होने और उन्हें अस्पताल में भर्ती कराए जाने की जानकारी दी थी। रामपुर के पुलिस अधीक्षक ने कहा था कि सात लोगों को प्राथमिक चिकित्सा उपचार के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी और गंभीर रूप से घायल हुए तीन यात्री खतरे से बाहर हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.