ताज़ा खबर
 

भतीजे अखिलेश यादव की विधायकी के 403 उम्मीदवारों की लिस्ट देखकर भड़के चाचा शिवपाल यादव

अखिलेश के इस कदम के बाद शिवपाल यादव ने ट्विटर के जरिए उनपर निशाना साधते हुए लिखा कि पार्टी में अनुशासनहीनता के लिए किसी को बक्शा नहीं जाएगा।
देर रात मुलायम सिंह से मुलाकात के बाद पार्टी अध्यक्ष शिवपाल यादव ने जारी की थी लिस्ट

उत्तर प्रदेश में सत्ताधारी समाजवादी पार्टी में लगता है चाचा और भतीजे के बीच का विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। इस बार सीएम अखिलेश यादव ने प्रदेश में होने वाले आगामी विधान सभा चुनाव के लिए 403 उम्मीदवारों की लिस्ट पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव को सौंपकर एक नए विवाद को जन्म दे दिया है। सूत्रों की मानें तो इस लिस्ट में शिवपाल यादव के करीबियों को जगह नहीं मिली है। वहीं पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव ने सार्वजनिक रूप से संकेत दिया है कि वो इससे नाखुश हैं।

माना जा रहा है कि अखिलेश के इस कदम के बाद शिवपाल यादव ने ट्विटर के जरिए उनपर निशाना साधते हुए लिखा कि पार्टी में अनुशासनहीनता के लिए किसी को बख्शा नहीं जाएगा। टिकट का बंटवारा जीत के आधार पर होगा और इस आधार पर अब तक 175 लोगों को दिया जा चुका है। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मुख्यमंत्री का फैसला भी पार्टी के संविधान और विधायक दल की बैठक में लिया जाएगा।

ऐसा लगता है जैसे कि चाचा और भतीजे ने एक दूसरे की काट करने की ठान रखी है। दरअसल, अखिलेश के इस कदम इसलिए भी हैरानी भरा है क्योंकि पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल यादव और उम्मीदवारों के नाम तय करना उनकी जिम्मेदारी है। लेकिन विधानसभा चुनाव से पहले अखिलेश ने अपनी तरफ से उम्मीदवारों की लिस्ट मुलायम सिंह यादव को देकर क्या एक बार फिर विवाद खड़ा कर दिया है। वहीं बताया जा रहा है कि पार्टी में शनिवार से हलचल चल रही है। अमर सिंह और शिवपाल यादव ने पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव से मुलाकात की थी।

गौरतलब है कि अखिलेश यादव और शिवपाल यादव में पिछले काफी समय से अनबन चल रही है। हालांकि मुलायम सिंह ने दोनों के बीच सब कुछ ठीक करने की कोशिश भी की। इस सब के बावजूद दोनों ही एक—दूसरे के फैसले के विरूद्ध जाकर ही काम करते हैं।

वीडियो: हमारा परिवार एकजुट है”: शिवपाल यादव

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. A
    Abu talib
    Dec 26, 2016 at 8:07 am
    अरे ! इस समाजवादी पार्टी में समाज कहाँ है ?
    (0)(0)
    Reply