January 19, 2017

ताज़ा खबर

 

Make In India से सफल बनेगा पर्यटन: कांत

भारत अंतरराष्टीय पर्यटन बाजार (बीआइटीबी 2016) का पहला संस्करण दिल्ली के प्रगति मैदान में गुरुवार को खत्म हो गया।

Author नई दिल्ली | October 7, 2016 04:05 am

भारत अंतरराष्टीय पर्यटन बाजार (बीआइटीबी 2016) का पहला संस्करण दिल्ली के प्रगति मैदान में गुरुवार को खत्म हो गया। नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा कि अगर देश को आने वाले दशकों में तेज विकास दर्ज करना है तो पर्यटन को भारत के विकास की रणनीति के केंद्र में रखना होगा। उन्होंने पर्यटन के लिए एक सकारात्मक माहौल तैयार करने में राज्य सरकारों द्वारा ज्यादा भागीदारी और सक्रिय भूमिका निभाने पर बल दिया। 4 अक्तूबर को शुरू हुए आइटीबी 2016 के उद्घाटन कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा, जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती, दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग और पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा मौजूद रहे। कार्यक्रम को सरकार के अहम अधिकारियों और पर्यटन से संबंधित सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के बड़े समूहों और कंपनियों के प्रमुखों ने संबोधित किया। ‘पर्यटन में मेक इन इंडिया’ पर नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा, ‘पर्यटन राष्ट्रीय विकास का मुख्य वाहन है’। उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया को सफल बनाने में पर्यटन ही अकेला सबसे अहम क्षेत्र रहा। उन्होंने कहा, ‘लाखों युवा भारतीयों के लिए नौकरी सृजन के लिए देश को कुछ दशकों तक लगातार 9-10 फीसद की दर से विकास करना होगा और इसे हासिल करने के लिए समृद्ध पर्यटन संसाधनों का लाभ उठाना होगा’। एअर इंडिया के सीएमडी अश्वनी लोहानी ने कहा कि एयर इंडिया, सरकार के क्षेत्रीय संपर्क के आदेश को आगे बढ़ाने के लिए खुद को मजबूत बना रही है। अंतरराष्टÑीय संपर्क के साथ घरेलू उड़ानों को भी बढ़ावा दिया जा रहा है जिसके लिए एअर इंडिया कई नए विमान खरीदेगा। इसके साथ ही एअर इंडिया दिल्ली से मैड्रिड और वाशिंगटन को जोड़ने के लिए सेवा की शुरुआत करेगा।

हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास बोर्ड के उपाध्यक्ष मेजर मनकोटिया ने एक व्यावहारिक पर्यटन सर्किट स्थापित करने में देश की असमर्थता का जिक्र किया। उन्होंने पहाड़ी राज्यों के लिए एक अलग काउंसिल गठित करने पर बल दिया। उन्होंने कहा, ‘पहाड़ी क्षेत्रों की अलग समस्याएं हैं, हमारे प्राकृतिक संसाधन, जंगल सभी केंद्र सरकार के अधीन हैं, ऐसे में पर्यटन ही एकमात्र ऐसा विकल्प है जिससे लोगों के लिए पर्याप्त रोजगार सृजित हो’। भारत सरकार में संयुक्त सचिव अतुल चतुर्वेदी ने मेक इन इंडिया को एक अहम पहल बताते हुए कहा कि पर्यटन राष्ट्रीय विकास के एजंडा में एक अहम घटक है। बीआइटीबी में वैश्विक पर्यटन में योगदान के लिए कई लोगों को सम्मानित किया गया । इनमें प्रमुख हैं-जेट एअरवेज के अध्यक्ष नरेश गोयल, ईआईएच के कार्यकारी अध्यक्ष पी आरएस ओबेराय, मुंबई इंटरनेशनल हवाईअड्डा के प्रबंध निदेशक जीवी संजय रेड्डी, मेक इन ट्रिप के संस्थापक दीप कालरा और अन्य। बीआइटीबी 2016 ने भारत के ‘अतुलनीय भारत’ और ‘मेक इन इंडिया’ को समर्थन दिया। कार्यक्रम के केंद्र में भारतीय खरीदार रहे। इसके तहत 15 राज्यों और 20 अंतरराष्टÑीय पर्यटन उत्पादों ने अपनी प्रदर्शनी लगाई। बीआइटीबी ने तीन दिवसीय कार्यक्रम के लिए आइटीबी बर्लिन से साझेदारी की थी। आइटीबी बर्लिन विश्व का सबसे अग्रणी पर्यटन मेला माना जाता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 7, 2016 4:04 am

सबरंग