ताज़ा खबर
 

मोतियाबिंद के आॅपरेशन के बाद सात मरीज हुए अंधे, सरकारी डॉक्टरों के खिलाफ मामला दर्ज

अस्पताल में पिछले सप्ताह कुछ लोगों की आंखों का मोतियाबिंद का आॅपरेशन हुआ था। आॅपरेशन के बाद महिलाओं सहित 13 मरीजों की आंखों में संक्रमण हो गया और फिर इनमें से सात मरीजों की आंखों की रोशनी चली गई।
Author हैदराबाद | July 7, 2016 14:12 pm
(file photo)

मोतियाबिंद के आॅपरेशन के बाद सात मरीजों की आंखों की रोशनी समाप्त होने के आरोपों को लेकर यहां के एक सरकारी अस्पताल के डॉक्टरों के खिलाफ एक मामला दर्ज किया गया है। हुमायूं नगर पुलिस थाने के इन्स्पेक्टर एस रविन्दर ने बताया कि इस संबंध में शिकायत मिलने के बाद सरोजिनी देवी नेत्र चिकित्सालय के कुछ डॉक्टरों के खिलाफ भादंसं की धारा 338 :जीवन या दूसरों की निजी सुरक्षा को खतरे में डालने वाले कृत्य से गंभीर चोट पहुंचाना: के तहत एक मामला दर्ज किया गया है।

बहरहाल, उन्होंने कहा कि इस मामले में डॉक्टरों के नामों का विशेष रूप से उल्लेख नहीं किया गया है। इन्स्पेक्टर ने पीटीआई को बताया ‘‘यह मामला तेलंगाना मेडिकल बोर्ड के पास भेजा जाएगा।’’ इस अस्पताल में पिछले सप्ताह कुछ लोगों की आंखों का मोतियाबिंद का आॅपरेशन हुआ था। आॅपरेशन के बाद महिलाओं सहित 13 मरीजों की आंखों में संक्रमण हो गया और फिर इनमें से सात मरीजों की आंखों की रोशनी चली गई।

इन्स्पेक्टर ने बताया कि प्रभावित मरीज अनजी रेड्डी के दामाद जितेन्दर रेड्डी ने शिकायत में डॉक्टरों पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस शिकायत में रेड्डी ने आरोप लगाया है कि अस्पताल के डॉक्टरों ने न तो सही तरीके से सर्जरी की और न ही सावधानी बरती गई। इसके अलावा, मरीजों के परिजनों को बताये बिना मरीजों की पांच ‘फॉलो..अप’ सर्जरी भी की गईं जिससे उनकी आंखों की रोशनी समाप्त हो गई।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.