May 26, 2017

ताज़ा खबर

 

आंध्र ने किए चीन की कंपनियों के साथ डेढ़ अरब डालर के निवेश समझौते

आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की हाल में चीन यात्रा के बाद यह समझौता हुआ है।

Author नई दिल्ली | October 9, 2016 06:20 am
(Source: Express photo by Praveen Khanna)

आंध्र प्रदेश आर्थिक विकास बोर्ड (एपीईडीबी) ने चीन की तीन इकाइयों के साथ राज्य में खनिज व औद्योगिक पार्क विकास के लिए करार किया है। इन परियोजनाआें पर डेढ़ अरब डालर का निवेश होने का अनुमान है। एक बयान में कहा गया है कि चीन की पावर चाइना ग्यूझोउ इंजीनियरिंग कॉरपोरेशन, एल्युमीनियम कॉरपोरेशन आॅफ चाइना लि. और ग्यूझोउ मैरीटाइम सिल्क रोड इंटरनेशनल इन्वेस्टमेंंट कॉरपोरेशन आंध्र प्रदेश में संयुक्त रूप से खान व औद्योगिक पार्क का विकास करेंगी। इस बारे में सहमति ज्ञापन पर चौथी भारत-चीन रणनीतिक आर्थिक वार्ता में दस्तखत किए गए।

इन परियोजनाओं में करीब 40,000 लोगों को प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार प्राप्त होगा। बयान में कहा गया है कि परियोजना 2018 के अंत तक शुरू होगी। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की हाल में चीन यात्रा के बाद यह समझौता हुआ है। इस बीच, मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने भारत आर्थिक शिखर सम्मेलन में नए राजधानी शहर अमरावती को एक बड़े शहर के तौर पर विकसित करने की अपनी योजना के बारे में बताया। नायडू ने कहा कि अमरावती एक महत्त्वाकांक्षी परियोजना है। यह राज्य के लिए एक प्रमुख आर्थिक शक्ति के रूप में उभरकर आएगी।

उनका इरादा इस नई राजधानी को एक खुशहाल शहर के रूप में विकसित करने का है। नायडू ने कहा कि इस शहर में विभिन्न सुविधाएं आवासीय इलाकों में पांच मिनट की दूरी पर होंगी। घर से कामकाज के स्थान, शहरी गतिविधियों के केंद्र और जरूरी सेवाओं की उपलब्धता को सुनियोजित ढंग से विकसित करना इस शहर की योजना का मुख्य अंग होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जमीन उपलब्ध है। अब हमें श्रेष्ठ शिक्षण संस्थानों, अस्पतालों, होटल व वित्तीय संस्थानों को इस नए शहर में लाना होगा। हैदराबाद के विकास में अपने काम को याद करते हुए नायडू ने कहा कि इसमें नौ साल लगे। हमने अपनी सारी ऊर्जा व संसाधन हैदराबाद में लगा दी। हैदराबाद के कारण ही तेलंगाना में अधिशेष बजट है। उन्होंने कहा कि राजधानी का विभाजन बहुत दर्द भरी प्रक्रिया है। यह संकट है लेकिन इस बार मेरे लिए नई राजधानी स्थापित करने का एक अनूठा अवसर भी है।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 9, 2016 6:20 am

  1. No Comments.

सबरंग