ताज़ा खबर
 

मुख्यमंत्री के ‘ड्रीम होम’ में बाथरूम है बुलेटप्रूफ, बेटे के कमरे में भी किया गया स्पेशल इंतजाम

तेलंगाना के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि सीएम की सिक्योरिटी के साथ कोई चांस नहीं लिया जा सकता। हर तरह के खतरे को निष्फल करना बेहद जरूरी है।
Author हैदराबाद | November 23, 2016 11:22 am
तेलंगाना के मुख्‍यमंत्री के चंद्रशेखर राव (File Photo)।

घातक हथियारों से लैस सुरक्षाकर्मियों, माइन प्रूफ कारों का काफिला और घर में किले जैसी सुरक्षा होने तथा जेड प्लस सिक्योरिटी प्राप्त तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव के लिए इतनी सुरक्षा काफी नहीं है। अब उन्होंने अपने बाथरूम को भी बुलेटप्रूफ बनवाया है। यह बाथरूम बेगमपेट स्थित उनके नए घर में हैं। एक लाख स्कवॉयर फीट में फैले हुए राव के नए घर में बुलेटप्रूफ ग्लास (खिड़कियों और वेंटिलेटर्स) लगे हुए हैं। यही नहीं सीएम के इस नए घर के दो बेडरूम्स हाई क्वालिटी ग्लास फिट हैं। इनमें से एक कमरा सीएम का और दूसरा उनके बेटे का है। इन सब पर लाखों रुपए खर्च हुए हैं।

टीओआई की रिपोर्ट के मुताबिक मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव गुरुवार को अपने ‘ड्रीम होम’ में शिफ्ट हो सकते हैं। इस घर में इंटेलिजंस सिक्योरिटी विंग के सदस्यों के साथ 50 के करीब सुरक्षाकर्मी तैनात रहेंगे। उनका काम सीएम के बंगले पर हर मिनट नजर रखना होगा। इस घर में जाने वालों को गहरी सुरक्षा जांच से गुजरना होगा। इसके अलावा सुरक्षा कारणों से उस शख्स को अपना मोबाइल फोन, घंटी और धातु की सभी चीजें बाहर जमा करानी होंगी।

पता चला है कि खुफिया अधिकारियों ने बुलेट प्रूफ शीशों का इस्तेमाल करने की सिफारिश की थी, जिससे कि इन कमरों में स्नाइपर से निशाना न साधा जा सके। तेलंगाना के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि सीएम की सिक्योरिटी के साथ कोई चांस नहीं लिया जा सकता। हर तरह के खतरे को निष्फल करना बेहद जरूरी है। राव का यह घर सरकारी बंगला बन जाएगा और सुरक्षा पर खर्च होने वाला पैसा बर्बाद नहीं होगा।

गौरतलब है कि तेलंगाना के मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव को जेड प्लस सिक्योरिटी मिली हुई है। हाल ही में देवी को 3.7 करोड़ रुपए का मुकुट चढ़ाने के मामले में राव चर्चा में रहे थे। राव ने मन्नत पूरी होने पर मां भद्रकाली के चरणों में 3.7 करोड़ का सोने का मुकुट चढ़ाया था। मुकुट का वजन 11.7 किलोग्राम था और इसे जीआरटी ज्वैलर्स ने बनाया था। मुकुट चढ़ाने से पहले मंदिर में विशेष प्रार्थना की गई है। इस दौरान उनकी पत्नी विजया के अलावा मंत्री इद्राकरण रेड्डी और उनकी पत्नी मौजूद रही। बताया जा रहा था कि सीएम केसी राव ने अलग तेलंगाना राज्य की स्थापना के लिए भद्रकाली से मन्नत मांगी थी। इस मन्नत के पूरा हो जाने के बाद मां को सोने के गहनों से सजाया गया।

वीडियो: पैसे की कमी के कारण अपनी पत्नी के शव को 24 घंटों तक ठेले पर लेकर चलता रहा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग