ताज़ा खबर
 

तेलंगाना पुलिस ने किडनैपर्स से बचाई मासूम की जान, खिलखिलाती तस्‍वीर हो रही वायरल

पुलिस पूछताछ में मुस्ताक ने बताया कि रहमतनगर निवासी उसका दोस्त मो. घोउस एक बच्चे को अपनाना चाहता था। उसने उससे मदद मांगी।
4 माह का मासूम फैजन खान जब अपनी मां के बगल में सो रहा था, तब किडनैपरों ने उसे उठा लिया। (Photo: Twitter)

तेलंगाना पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज की मदद से चार माह के मासूम बच्चे को 16 घंटे के अंदर किडनैपरों से छुड़ा लिया। तेलंगाना पुलिस ने इस मामले में दो किडनैपर को गिरफ्तार किया है। इसके बाद पुलिस ने बच्चे को उसके परिजनों को सौंप दिया। शहर में किडनैपिंग का यह तीसरा मामला है, जिसमें तेलंगाना पुलिस को कामयाबी मिली है। पुलिस ने बताया कि बुधवार रात 2 बजे मो. मुस्ताक-ऑटो ड्राइवर (42) और उसका दोस्त मो. यूसूफ- रसोइया (25) ने हबीबनगर से बच्चे को किडनैप कर लिया था।

4 माह का मासूम फैजन खान जब अपनी मां के बगल में सो रहा था, तब किडनैपरों ने उसे उठा लिया। जब सुबह 4 बजे उसकी मां हुमैरा बेगम सोकर उठी तो अपने बेटे को न पाकर हैरान हुई। उसने नजदीकी नंपली पुलिस स्टेशन में बच्चे के लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस ने घटना स्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगाला। जिसमें दो अज्ञात अपराधियों का देखा गया। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पुलिस समझ गई यह किडनैपिंग का मामला है। उसने अपराधियों की तलाश शुरु कर दी।

इस मामले में पुलिस को स्थानीय लोगों से काफी मदद मिली। सूचना के आधार पर पता चला कि मो. मुस्ताक का घर अघापुरा स्थित दरगाह शाह खामोश के निकट है। पुलिस लगातार मुस्ताक के घर नजर बनाए रखी। शाम 6 बजे करीब पुलिस ने मुस्ताक को धर-दबोचा। इसके साथ ही पुलिस ने बच्चे को सही सलामत छुड़ा लिया।

पुलिस पूछताछ में मुस्ताक ने बताया कि रहमतनगर निवासी उसका दोस्त मो. घोउस एक बच्चे को अपनाना चाहता था। उसने उससे मदद मांगी। जिसके बाद उसने अपने दूसरे दोस्त यूसूफ की मदद से बच्चे को किडनैप किया। मुस्ताक ने बताया कि वो दोनों मिलकर बच्चे को बेचना चाहते थे। लेकिन बाद में घोउस ने बच्चा लेने से इंकार कर दिया। क्योंकि उसके माता-पिता का पता नहीं था। हालांकि, 16 घंटे के छानबीन के बाद पुलिस किडनैपरों तक पहुंच गई। पुलिस की इस कामयाबी को सोशल मीडिया पर काफी सराहा जा रहा है। सोशल मीडिया पर बच्चे के मुस्कुराने वाली तस्वीर काफी वायरल हो रही है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग