December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

एआईएडीएमके चीफ जय‍ललिता के गले में अब भी लगी है ट्यूब, बोलने के लिए भी लेती हैं मशीन का सहारा

जयललिता को 22 सितंबर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

तमिलनाडु की मुख्‍यमंत्री जे जयललिता। (फाइल फोटो)

अपोलो अस्पताल के चेयरमैन प्रताप रेड्डी ने शुक्रवार को मीडिया से बात करते हुए कहा कि तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता अभी 90 फीसदी सांस खुद से ले रही हैं, जबकि बोलने के लिए वे मशीन का सहारा ले रही हैं। उन्होंने बताया, ‘उनके जिन अंगों में दिक्कत थी, अब वे सही हो गए हैं। लेकिन उनके गले में अभी भी ट्यूब लगी हुई है, इसी वजह से वे 90 फीसदी सांस खुद से ले रही हैं। ट्रेकियोस्टोमी की वजह से वह बात नहीं कर सकतीं। ऐसे में वे एक स्पीकर की मदद से बात कर रही हैं, लेकिन यह भी अस्थाई ही है। वे जल्द ही अच्छे से बोल पाएंगी।’

रेड्डी ने पहले बताया गया था कि जयललिता को दूसरे वार्ड में शिफ्ट किया गया है, जहां वे सामान्य महसूस कर सकती हैं। उन्हें कई सप्ताह के बाद सामान्य वार्ड में शिफ्ट किया गया। यह फैसला तब लिया गया, जब उनका ईलाज कर रहे डॉक्टरों को यह भरोसा हो गया कि उनके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है।

जयललिता को 22 सितंबर को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उन्हें बुखार और पानी की कमी की शिकायत थी। पहले के कुछ दिन तो डॉक्टर कहते रहे कि सीएम के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है और उन्हें जल्द ही अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी। लेकिन उसके बाद रिपोर्ट आईं तो मामला कुछ गंभीर लगा और उन्हें वेल्टिनेटर पर रखा गया। जयललिता की ज्यादा तबियत खराब होने जाने की रिपोर्ट आने के बाद उनके समर्थकों ने उनके स्वास्थ्य के लिए पूजा, हवन करवाया था। स्थिति को देखते हुए विपक्षी दल के नेता करुणानिधि ने सरकार से उनके स्वास्थ्य की रिपोर्ट मांगी थी। लेकिन अधिकारियों ने बताया कि जयललिता का स्वास्थ्य स्थिर है और उनके स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। इसके बाद डॉक्टरों ने बताया कि उनके फेफड़ों में इंफेक्शन है और सांस के लिए उनके मशीने लगाई गई हैं।

अस्पताल में भर्ती होने के बाद जयललिता का पहला बयान पिछले सप्ताह आया था। उन्होंने बयान में कहा था, ‘मैंने पार्टी कार्यकर्ताओं और लोगों की प्रार्थना की वजह से दोबारा से जन्म लिया है। जब मेरे पास तुम लोगों का प्यार है तो कोई मुझे कैसे नुकसान पहुंचा सकता है। मैं पूरी तरह से सही होने का इंतजार कर रही हूं, ताकि लोगों के लिए दोबारा से काम करना शुरू कर दूं।’

जब तक वे काम पर नहीं लौटती, उनके वित्तमंत्री ओ पन्नीरसेलवम उनके आठ मंत्रालयों को देखेंगे और कैबिनेट की बैठकों का अध्यक्षता करेंगे।

वीडियो में देखें- जयललिता के अस्पताल में भर्ती होने के कारण सभी विभाग पनीरसेल्व को सौंपे गए; लेकिन जया बनी रहेंगी सीएम

वीडियो में देखे- जयललिता के समर्थकों ने उनके जल्दी से स्वस्थ होने के लिए प्रार्थना की

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 25, 2016 4:58 pm

सबरंग