March 27, 2017

ताज़ा खबर

 

जयललिता का बेटा होने का दावा करने वाले युवक को कोर्ट की चेतावनी- फर्जी निकले कागजात तो जेल में डाल देंगे

कृष्णामूर्ति नाम के युवक ने दावा किया था कि वह जयललिता और दिवंगत तेलुगू अभिनेता शोबान बाबू का बेटा है।

कृष्णामूर्ति नाम के शख्स ने खुद को जयललिता का एकमात्र पुत्र के रुप में पेश किया है। (Source-Twitter image)

तमिलनाडु की पूर्व सीएम दिवंगत जयललिता का बेटा होने का दावा करने वाले युवक को मद्रास हाईकोर्ट ने चेतावानी दी है कि अगर तुम्हारे कागजात फर्जी निकलते हैं तो तुम्हें जेल में डाल दिया जाएगा। इसके साथ ही शनिवार को चेन्नई पुलिस कमिश्नर के सामने पेश होने के लिए कहा है। जे. कृष्णामूर्ति नाम के युवक को चेताया गया है कि अगर उसके द्वारा पेश किए गए कागजात फर्जी निकले तो उसे गिरफ्तार किया जा सकता है। कृष्णामूर्ति ने दावा किया था कि वह जयललिता और दिवंगत तेलुगू अभिनेता शोबान बाबू का बेटा है। युवक का कहना है कि जयललिता ने उसे एक महिला वसंतमनी को सौंप दिया था। इस महिला से जयललिता 1986 में इरोड में एक फिल्म शूट के दौरान मिली थी।

युवक ने कोर्ट में गोद लेने का दस्तावेज की एक कॉपी भी जमा कराई है, उसने दावा किया है कि इस पर जयललिता के मेंटर एमसी रामचंद्रन के गवाह के तौर पर हस्ताक्षर हैं। जस्टिस महादेवन ने कहा, ‘एक एलकेजी का बच्चा भी बता देगा कि ये कागजात बनाए गए हैं। तुमने एक तस्वीर दी है, जो कि पब्लिक डोमेन में है। क्या तुम सोचते हो कि कोई भी चला आएगा और पीआईएल दायर देगा। कोर्ट के साथ मत खेलो।’

सामाजिक कार्यकर्ता रामास्वामी ने कृष्णामूर्ति की तरफ से पीआईएल दायर की थी। रामस्वामी का कहना है, ‘सच्चाई बाहर आनी चाहिए। मुझे कोई दिक्कत नहीं है, अगर कागजात फर्जी हैं तो कोर्ट को उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।’

इस शख्स ने राज्य के मुख्य सचिव को आवेदन देकर दावा किया था कि वो जयललिता का बेटा है और उसकी ‘मां’ की हत्या की गई है। ये शख़्स तमिलनाडु के इरोड जिले का रहने वाला है। इससे पहले जयललिता की मौत के बाद प्रियालक्ष्मी नाम की एक महिला ने दावा किया था कि, ‘वो एमजीआर और जयललिता की बेटी है’, लेकिन जब पुलिस ने उस महिला के दावों की पड़ताल की तो वो झूठा निकला, इसके बाद पुलिस ने धोखाधड़ी के आरोप में प्रियालक्ष्मी को गिरफ़्तार कर लिया था।

कृष्णमूर्ति ने दावा किया है कि, ‘ वो जयललिता की दोस्त वनितामणि के घर में अपने गोद लिये माता पिता के साथ रहता है।’ उसने ये भी कहा कि 14 सितंबर 2016 को वो जयललिता के सरकारी आवास पोएस गार्डन में आया था और जयललिता के साथ चार दिनों तक रहा भी था।

वीडियो- जयललिता का इलाज करने वाले डॉक्टर का बयान- “आर्गन फेल होने से हुई थी मौत”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 18, 2017 1:59 pm

  1. No Comments.

सबरंग