April 27, 2017

ताज़ा खबर

 

कोका कोला और पेप्सी को राहत, मद्रास हाईकोर्ट ने दी तमीराबारनी नदी का पानी इस्तेमाल करने की मंजूरी

तमीराबारनी नदी का पानी इस्तेमाल करने पर कोर्ट ने पिछले साल इन कंपनियों पर रोक लगा दी थी।

कोका कोला और पेप्पी को तमिलनाडु में पहले से ही बॉयकट किया हुआ है। ( Photo Source: AP)

सॉफ्ट ड्रिंक बनाने वाली कंपनी कोका कोला और पेप्सी को गुरुवार को कोर्ट की तरफ से राहत मिली है। मद्रास हाईकोर्ट ने इन्हें राहत देते हुए कहा कि ये दोनों कंपनियों तमिलनाडु की तमीराबारनी नदी का पानी सॉफ्ट ड्रिंक और पैक वॉटर के लिए इस्तेमाल कर सकती हैं। इसके खिलाफ कोर्ट में याचिका लगाई गई थी कि इन कंपनियों द्वारा नदी के पानी के इस्तेमाल पर रोक लगाई जाए। याचिका में कहा गया था कि ये कंपनियां नदी से बहुत मात्रा में पानी ले रही है, जिससे राज्य में खेती में दिक्कत हो सकती है। हालांकि, कोर्ट ने अब इन याचिकाओं को खारिज कर दिया है। पिछले साल नवंबर में कोर्ट की एक बैंच ने इस नदी का पानी इस्तेमाल करने पर दोनों कंपनियों पर रोक लगा थी। कोर्ट ने इस रोक को भी हटा लिया है।

याचिकाकर्ता ने आरोप लगाया था कि ये दोनों कंपनियां पानी के लिए प्रति 1,000 लीटर सिर्फ 37. 50 पैसे ही भुगतान करती हैं। इतने कम दामों पर पानी लेने के बाद ये कंपनियां अपने प्रोडेक्ट्स बहुत ऊंची कीमतों पर बेचती हैं। याचिकाकर्ता ने दोनों कंपनियां से बने प्रोडेक्ट्स पर रोक लगाने की मांग भी की थी। साथ ही याचिका में दोनों कंपनियों से बने सॉफ्ट ड्रिंक को शरीर के लिए घातक बताया था।

कोका कोला और पेप्पी को तमिलनाडु में पहले ही विरोध का सामना करना पड़ रहा है, राज्यभर में हजारों दुकानदारों, सुपरमार्केट्स और रेस्तरां ने इनका बॉयकट कर रखा है। इनका कहना है कि यह विरोध स्थानीय प्रोडेक्ट्स को बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा है।

वीडियो- सरकारी जांच में 5 कोल्ड ड्रिंक्स के ब्रॉंड्स की प्लास्टिक बोतलों में पाए गए ज़हरीले तत्व

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 2, 2017 12:56 pm

  1. No Comments.

सबरंग