ताज़ा खबर
 

जयललिता की बीमारी से दुखी व्यक्ति ने खुदकुशी की

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता के अस्वस्थ होने की खबरों से दुखी 70 साल के अन्नाद्रमुक कार्यकर्ता ने तिरुपुर जिले में कथित तौर पर खुदकुशी कर ली।
Author कोयंबटूर | October 15, 2016 02:35 am

तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जे जयललिता के अस्वस्थ होने की खबरों से दुखी 70 साल के अन्नाद्रमुक कार्यकर्ता ने तिरुपुर जिले में कथित तौर पर खुदकुशी कर ली। पुलिस ने मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य को लेकर अफवाह फैलाने के आरोप में दो बैंककर्मियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने शुक्रवार को बताया कि तिरुपुर में अन्नाद्रमुक के नगर सचिव रह चुके वेल्लायप्पन 22 सितंबर को जयललिता के अस्पताल में भर्ती होने के बाद से ही काफी परेशान थे। मुख्यमंत्री की तबीयत से जुड़ी खबरें पढ़ने पर वेल्लायप्पन और दुखी हो जाते थे। वेल्लायप्पन ने तिरुपुर जिले के शोलायुर इलाके में स्थित अपने घर में गुरुवार को कथित तौर पर जहर खा लिया। उनकी अस्पताल में मौत हो गई।  पुलिस ने मुख्यमंत्री जयललिता के स्वास्थ्य को लेकर अफवाह फैलाने के आरोप में शहर के उपनगरीय इलाके के राष्ट्रीयकृत बैंक के दो कर्मचारियों को शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया। जयललिता इस समय चेन्नई के एक अस्पताल में इलाज करा रही हैं। अन्नाद्रमुक की महिला कार्यकर्ता सुनीता देवी की शिकायत के बाद गिरफ्तारियां हुईं। सुनीता ने सात अक्तूबर को थोंडामुथूर स्थित बैंक शाखा में गई थीं।

बैंक के दो कर्मचारी सुरेश और रमेश ने उनसे मुख्यमंत्री के स्वास्थ्य के बारे में पूछा। जब सुनीता कोई जवाब नहीं दिया तो दोनों ने कथित रूप से जयललिता के स्वास्थ्य को लेकर कुछ टिप्पणियां की। सुनीता ने बाद में पार्टी के लोगों को इसकी जानकारी दी। अन्नाद्रमुक के कुछ कार्यकर्ता सुनीता के साथ गुरुवार को बैंक गए क्योंकि छुट्टियों के कारण बैंंक पांच दिन तक बंद था। उन्होंने वहां दोनों कर्मचारियों से उनकी टिप्पणी को लेकर स्पष्टीकरण मांगा। इस पर दोनों पक्षों में बहस हुई। सुनीता ने घटना को लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। इसके बाद पुलिस ने सुरेश और रमेश के खिलाफ 501 (1) बी और 506 (1) समेत आइपीसी की कई धाराओं के तहत मामला दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। पुलिस पहले ही जयललिता के बारे में अफवाह फैलाने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दे चुकी है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग