ताज़ा खबर
 

केरल के राज्यपाल और मुख्यमंत्री जयललिता को देखने अस्पताल पहुंचे

22 सितंबर को बुखार और निर्जलीकरण की शिकायत के बाद जयललिता को अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
Author चेन्नई | October 11, 2016 05:24 am
अस्पताल में इलाज करा रहीं मुख्यमंत्री जय जयललिता की रिपोर्ट पर मद्रास हाईकोर्ट का आदेश

केरल के राज्यपाल पी सदाशिवम और मुख्यमंत्री पिनराई विजयन सहित कई प्रमुख हस्तियां सोमवार तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता को देखने यहां के अपोलो अस्पताल पहुंचीं।
इस बीच, जयललिता की पार्टी अन्नाद्रमुक ने ट्वीट किया, ‘पुरूची तलैवी अम्मा (क्रांतिकारी नेता अम्मा) के साथ सब कुछ ठीक है।’ उधर, तमिलनाडु कांग्रेस ने कहा कि वह जयललिता के अस्पताल से बाहर आने तक कार्यवाहक मुख्यमंत्री अथवा उप मुख्यमंत्री को नियुक्त करने के मुद्दे पर राज्य सरकार को परामर्श नहीं देना चाहती क्योंकि ऐसे मामलों पर फैसला करने का अधिकार अन्नाद्रमुक को है। बहरहाल, कांग्रेस ने इस बात पर जोर दिया कि राज्य प्रशासन सुचारू रूप से चलना चाहिए।

विजयन राज्यपाल सदाशिवम के साथ अस्पताल पहुंचे और ओपोलो अस्पताल सीएमडी प्रताप रेड्डी के साथ बातचीत की। सदाशिवम ने संवाददाताओं से कहा, ‘हमने डॉक्टर प्रताप रेड्डी और दूसरे चिकित्सकों से मुलाकात की। विशेषज्ञों ने हमें सूचित किया कि उन पर उपचार का अच्छी तरह असर हो रहा है।’ उन्होंने कहा, ‘कुछ दिनों के भीतर उनको अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी और प्रशासन की जिम्मेदारी जल्द संभालने की संभावना है। हम उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करते हैं।’ विजयन ने कहा कि वे यहां केरल की जनता की तरफ से शुभकामना व्यक्त करने आए हैं।

पुड्डुचेरी की उप राज्यपाल किरण बेदी भी अस्पताल पहुंची और कहा कि उनको रेड्डी ने सूचित किया कि जयललिता की सेहत में सुधार हो रहा है। किरण बेदी ने कहा, ‘उन्होंने कहा कि अम्मा की अच्छी देखभाल हो रही है और उनकी सेहत में सुधार हो रहा है। मैं प्रार्थना करती हूं कि उनकी सेहत में सुधार होता रहे। मैं पड़ोसी के तौर पर पूरे सम्मान के कारण मैं यहां आई हूं क्योंकि पुड्डुचेरी तमिलनाडु का पड़ोसी राज्य है और यहां होना मेरा फर्ज है।’उन्होंने कहा कि पुड्डुचेरी हवाई अड्डे के विस्तार के लिए जमीन के आग्रह को लेकर वह जयललिता से मिलना चाहती थीं और आशा है कि उनसे जल्द मुलाकात होगी। अन्नाद्रमुक कार्यकर्ताओं और समर्थकों के पूरे राज्य में पूजा-प्रार्थना करने का सिलसिला जारी है। वे अलग अलग धार्मिक स्थलों पर पहुंचकर अपनी नेता के स्वस्थ होने की प्रार्थना कर रहे हैं।

केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू, पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी और पीएमके सांसद अंबुमणि रामदास सहित कई बड़े नेता रविवार को जयललिता की खैरियत जानने अस्पताल पहुंचे थे। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बीते शुक्रवार को अस्पताल का दौरा किया था। बीते 22 सितंबर को बुखार और निर्जलीकरण की शिकायत के बाद जयललिता को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अपोलो अस्पताल ने आठ अक्तूबर को एक बयान जारी कर कहा कि जयललिता के फेफड़े में संक्रमण का इलाज चल रहा है तथा फिजियोथैरेपी सहित कुछ दूसरे उपाय भी किए जा रहे हैं और ये सिलसिला चिकित्सकों की निगरानी में चलता रहेगा।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग