ताज़ा खबर
 

तमिलनाडु: दिनाकरण गुट के 18 AIADMK विधायकों को स्‍पीकर ने अयोग्‍य ठहराया

दिनाकरण खेमे के 18 विधायक मुख्‍यमंत्री ई. पलानीस्‍वामी को हटाए जाने की मांग कर रहे थे।
अन्नाद्रमुक (AIADMK) विरोधी गुट के नेता टी टी वी दिनाकरन।

तमिलनाडु विधानसभा अध्यक्ष ने ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) पार्टी में टी.टी.वी दिनाकरन समर्थित 18 विधायकों को अयोग्य घोषित कर दिया गया है। इन्हें दल-बदल विरोधी कानून के तहत अयोग्य घोषित किया गया है। विधानसभा की ओर से जारी बयान के मुताबिक, विधानसभा अध्यक्ष पी.धनपाल ने दल-बदल विरोधी कानून के तहत सोमवार से इन 18 सांसदों को अयोग्य घोषित किया गया है। पार्टी के 19 विधायकों ने मुख्यमंत्री के.पलनीस्वामी से समर्थन वापस लेने के लिए राज्यपाल सी.वी.राव को पत्र सौंपा था। उन्होंने राज्यपाल से नए मुख्यमंत्री बनाने की प्रक्रिया शुरू करने का आग्रह किया था। इसके बाद एआईएडीएमके प्रमुख के सचेतक (व्हिप) एस.राजेंद्रन ने धनपाल को पत्र लिखकर इन 19 विधायकों को अयोग्य घोषित करने को कहा था। धनपाल ने इन 19 विधायकों के खिलाफ नोटिस जारी करते हुए कहा था कि क्यों न दल-बदल विरोधी कानून के तहत इन विधायकों को अयोग्य घोषित किया जाए। इससे पहले इन 19 विधायकों में से एक विधायक एस.टी.के.जैकायन पलनीस्वामी गुट में शामिल हो गया था।

दिनाकरन ने 18 विधायोकं के अयोग्य घोषित होने पर प्रतिक्रिया देते हुए संवाददाताओं को बताया कि वे विधानसभा अध्यक्ष के फैसले के खिलाफ मामला दायर करेंगे। विपक्षी दल मुख्यमंत्री पलनीस्वामी के खिलाफ बगावत करने वाले विधायकों के बाद सरकार से सदन में बहुमत साबित करने की मांग कर रही हैं। मद्रास उच्च न्यायालय ने 20 सितंबर तक बहुमत साबित नहीं किए जाने के आदेश दिए हैं। इन 18 विधायकों को अयोग्य घोषित करने के बाद सरकार का सदन में बहुमत है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग