December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी में सेना का जवान शहीद-एक महिला की मौत

पाकिस्तानी सैनिकों ने सोमवार (31 अक्टूबर) को सुबह से दोनों सीमावर्ती जिलों में भारतीय चौकियों और गांवों पर गोलीबारी करके संघर्ष-विराम उल्लंघन किया था।

Author पुंछ (जम्मू) | October 31, 2016 20:51 pm
जम्मू से करीब 75 किमी दूर पालनवाल सेक्टर में अत्यधिक गश्त वाली जगह कश्मीर को भारत और पाकिस्तान के बीच बांटने वाली नियंत्रण रेखा, पर पेट्रोलिंग करते सेना के जवान। (पीटीआई फोटो/4 अक्टूबर, 2016)

जम्मू कश्मीर के पुंछ और राजौरी जिलों में नियंत्रण रेखा (एलओसी) पार से पाकिस्तानी सैनिकों की सोमवार (31 अक्टूबर) को गोलाबारी में एक महिला की मौत हो गई जबकि एक सैनिक शहीद हो गया। वहीं, एक लड़की और दो सैनिक घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि महिला की पहचान 60 साल की रशीदा बी के रूप में की गई है। वहीं, उसकी 22 साल की बेटी नजमा पुंछ जिले में मेंढर के गौलाद गांव में पाकिस्तानी गोलाबारी में घायल हो गई। सेना ने बताया कि राइफलमैन बिमल तमांग (20) नियंत्रण रेखा पर राजौरी सेक्टर में पाकिस्तानी गोलाबारी में मारे गए। सेना के उत्तरी कमान के प्रवक्ता ने बताया, ‘राजौरी सेक्टर में संघर्ष विराम उल्लंघन का भारी गोलाबारी से जवाब दिया जा रहा है।’ रशीदा बी बालकोट सेक्टर के गौलाद गांव की दूसरी महिला हैं जिनकी पाकिस्तानी गोलाबारी में मौत हुई है। इससे पहले 28 अक्तूबर को उसमा बी (50) गौलाद गांव में पाक सैनिकों की गोलाबारी में मारी गई थीं।

सेना के एक अधिकारी ने बताया कि सोमवार सुबह, पाकिस्तानी सैनिकों ने पुंछ जिले में मेंढर तहसील के बालकोट, मानकोट क्षेत्र में भारतीय चौकियों और गांवों पर फायरिंग और गोलाबारी शुरू की। अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिक बगैर किसी उकसावे के बालकोट सेक्टर में सुबह नौ बजे से 12 मिमी एवं 82 मिमी मोर्टार, स्वचालित और छोटे हथियारों से संघर्ष विराम उल्लंघन कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि भारतीय सैनिकों ने उचित और मुंहतोड़ जवाब दिया। अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने सोमवार दोपहर राजौरी जिले के कई इलाकों में भी संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। वहीं, पाकिस्तानी रेंजरों के रविवार (30 अक्टूबर) संघर्ष विराम उल्लंघन करने के बाद अंतरराष्ट्रीय सीमा पर आज (सोमवार, 31 अक्टूबर) सुबह नौ बजे से शांति रही। भारतीय सेना द्वारा पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में आतंकी ठिकानों के खिलाफ किए गए 29 सितंबर के सर्जिकल हमलों के बाद से अब तक नियंत्रण रेखा और अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तानी सैनिकों की ओर से 60 से ज्यादा बार संघर्ष-विराम उल्लंघन किया जा चुका है। इन घटनाओं में तीन नागरिक सहित 13 लोग और आठ सुरक्षाकर्मी शहीद हुए हैं तथा 40 से ज्यादा लोग घायल हुये हैं। घायलों में अधिकतर नागरिक हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 31, 2016 7:15 pm

सबरंग