December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

कश्मीर का पारा शून्य से नीचे पहुंचा, लद्दाख के करगिल शहर में सबसे ठंडी रात

रात में करगिल का तापमान शून्य से 9.2 डिग्री सेल्सियस कम रहा।

Author श्रीनगर | November 18, 2016 15:59 pm
श्रीनगर-बडगाम रेलवे ट्रैक पर भारी कोहरे के बीच आगे बढ़ती ट्रेन। (PTI Photo/17 Nov, 2016)

कश्मीर के अधिकतर इलाकों में जबर्दस्त ठंड पड़ रही है जहां रात का तापमान शून्य से नीचे पहुंच गया है। लद्दाख के करगिल शहर में सबसे ठंडी रात दर्ज की गई जहां तापमान शून्य से 9.2 डिग्री सेल्सियस नीचे रहा। श्रीनगर का तापमान शून्य से 2.5 डिग्री सेल्सियस कम रहा, जो इस मौसम के सामान्य तापमान से चार डिग्री सेल्सियस कम है। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि यहां के तापमान में गुरुवार (17 नवंबर) की तुलना में थोड़ा सुधार दर्ज किया गया है। गुरुवार को यहां का तापमान शून्य से 2.7 डिग्री कम दर्ज किया गया था। अधिकारियों ने बताया कि जम्मू कश्मीर में करगिल सबसे ठंडा स्थान रहा और रात में यहां का तापमान शून्य से 9.2 डिग्री सेल्सियस कम रहा। उन्होंने बताया कि लेह शहर का तापमान भी शून्य से 8.4 डिग्री सेल्सियस कम रहा। लंबे समय तक शुष्क मौसम के बाद यहां ठंडी हवाएं चल रही हैं।

उत्तरी कश्मीर के कुपवाड़ा में गुरुवार (17 नवंबर) को का तापमान शून्य से 2.7 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया। गुरुवार को यहां का तापमान शून्य से 2.3 डिग्री सेल्सियस कम था। दक्षिणी कश्मीर का कोकरनाग शहर ही केवल ऐसा स्थान रहा, जहां रात का न्यूनतम तापमान शून्य से अधिक रहा। यहां रात का तापमान 0.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अधिकारियों ने बताया कि दक्षिणी कश्मीर के पहलगाम में तापमान शून्य से 4.2 डिग्री सेल्सियस कम रहा जो घाटी में सबसे ठंडा स्थान रहा। उत्तरी कश्मीर के गुलमर्ग में तापमान शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस कम रहा। यहां का तापमान शून्य से 0.6 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया। दक्षिणी कश्मीर के काजीगुंड का तापमान शून्य से 2.2 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया। इससे पहले भी यहां का तापमान इतना ही था। मौसम विभाग के अधिकारियों ने 20 नवंबर तक आम तौर पर मौसम शुष्क रहने का अनुमान जताया है। हालांकि उन्होंने अगले दिन हल्की बूंदाबांदी होने का भी पूर्वानुमान व्यक्त किया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 18, 2016 3:59 pm

सबरंग