December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

BSF ने कहा, अगर पाकिस्तान ने हमारे जवान को छुआ भी तो उन्हें भारी कीमत चुकानी होगी

पाकिस्तान द्वारा अंतरराष्ट्रीय सीमा पर जमावड़े की रिपोर्टों के बीच बीएसएफ ने कहा कि हम किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए वह पूरी तरह तैयार है।

Author जम्मू | October 23, 2016 19:34 pm
जम्मू के आरएस पुरा सेक्टर में अंतर्राष्ट्रीय सीमा के नजदीक गश्त करते सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवान। (PTI/19 Oct, 2016)

बीएसएफ ने रविवार (23 अक्टूबर) को आगाह किया है कि सीमा पर बीते 24 घंटे से जो असहज शांति बनी हुई है वह ‘किसी भी वक्त कोई और रूप’ ले सकती है और जम्मू-कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर किसी भी घटना या पाकिस्तानी पक्ष की ओर से सीमा पर किसी भी तरह के सैन्य जमावड़े से निपटने के लिए वह पूरी तरह तैयार है। पश्चिमी कमान के अतिरिक्त महानिदेशक अरुण कुमार ने श्रृद्धांजलि कार्यक्रम से इतर यहां संवाददाताओं से कहा, ‘अगर वे कुछ भी करने की कोशिश करेंगे तो उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। हम इसके लिए पूरी तरह तैयार हैं।’ पाकिस्तान द्वारा अंतरराष्ट्रीय सीमा पर जमावड़े की रिपोर्टों के बीच कुमार ने कहा कि बीएसएफ को इसके बारे में जानकरी है और किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए वह पूरी तरह तैयार है। बीएसएफ ने रविवार को अपने जवान गुरनाम सिंह को श्रृद्धांजलि अर्पित की। शुक्रवार (21 अक्टूबर) को कठुआ सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर गोलीबारी की घटना में वे घायल हो गए थे। बाद में अस्पताल में उनका निधन हो गया। बीएसएफ ने कहा कि घुसपैठ की कोशिश पाकिस्तानी रेंजरों की मदद से की जा रही थी जिसे गुरनाम सिंह और उनके साथी जवानों ने नाकाम कर दिया था।

बीएसएफ के एडीजी अरुण कुमार ने कहा, ‘जाहिर तौर पर यह ऑन रिकॉर्ड है और हमने अपने निगरानी उपकरणों की मदद से देखा है कि किस तरह उन्होंने (पाकिस्तानी रेंजरों ने) घुसपैठियों को हमारी सीमा में घुसाने के लिए उन्हें गोलीबारी की आड़ दी और किस तरह हमारे जवानों ने इस कोशिश को नाकाम किया।’ जवाबी गोलीबारी में सात पाकिस्तानी रेंजरों और एक आतंकी को मार गिराने के बीएसएफ के दावे पर आधारित सवाल के जवाब में एडीजी ने कहा, ‘देखिए जहां तक मारे गए लोगों की संख्या की बात है तो इस बारे में हम पक्के तौर पर कुछ नहीं कह सकते हैं। लेकिन सीमा करीबी होने की वजह से और हमारे पास ऐसे उपकरण है जिनकी मदद से हम दूसरी ओर देख सकते हैं और हमने देखा कि कई लोग घायल हुए हैं और वहां पड़े दिख रहे हैं।’ उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी पक्ष को जोरदार जवाब दिया गया है और अगर उन्होंने बीएसएफ के किसी जवान को निशाना बनाने की कोशिश की तो उन्हें इसकी भारी कीमत चुकानी होगी। कुमार ने कहा कि नियंत्रण रेखा पर युद्धविराम उल्लंघन की घटनाएं लगातार हो रही हैं और सेना के सशक्त मार्गदर्शन में बीएसएफ इनका मुंहतोड़ जवाब दे रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 23, 2016 7:34 pm

सबरंग