ताज़ा खबर
 

कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना : स्मृति ईरानी

उन्होंने कहा, ‘मैं खुश हूं कि मुझे एक अवसर दिया गया है, खासतौर पर जब इस क्षेत्र के लिए एक विशेष पैकेज की घोषणा की गई है। यह दिखाती है कि मेरी पार्टी और विशेष रूप से प्रधानमंत्री को विश्वास है कि मुझमें उस रोडमैप को लागू करने की क्षमता है जो देश के लिए कैबिनेट के माध्यम से पेश किया गया।’
Author नई दिल्ली | July 7, 2016 05:11 am
पूर्व मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी। (फाइल फोटो)

मानव संसाधन विकास मंत्रालय वापस ले लिए जाने के बाद स्मृति ईरानी ने कोई फर्क नहीं पड़ने के अंदाज में कहा कि कपड़ा मंत्रालय की उनकी नई जिम्मेदारी प्रधानमंत्री के उन पर भरोसे को दर्शाती है। नई जिम्मेदारी संभालने के बाद संवाददाताओं से बातचीत में उन्होंने इस बारे में पूछे गए सवालों को टाल दिया कि उनका मंत्रालय बदलने के पीछे भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की भूमिका है। स्मृति ने कहा कि यह व्यक्तिगत मामला नहीं है और ऐसे निर्णय पार्टी करती है। केंद्रीय मंत्री ईरानी से बुधवार को जब मानव संसाधन विकास मंत्रालय लेकर कपड़ा मंत्रालय की जिम्मेदारी दिए जाने के बारे में सवाल किए गए, तो उन्होंने एक लोकप्रिय फिल्मी गीत की पंक्ति सुना कर जवाब दिया। जब उनसे पूछा गया कि क्या नई जिम्मेदारी इसलिए दी गई है ताकि उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनावों पर ध्यान देने के लिए समय मिल सके तो उन्होंने कहा, ‘कुछ तो लोग कहेंगे, लोगों का काम है कहना।’

उन्होंने कहा, ‘मैं खुश हूं कि मुझे एक अवसर दिया गया है, खासतौर पर जब इस क्षेत्र के लिए एक विशेष पैकेज की घोषणा की गई है। यह दिखाती है कि मेरी पार्टी और विशेष रूप से प्रधानमंत्री को विश्वास है कि मुझमें उस रोडमैप को लागू करने की क्षमता है जो देश के लिए कैबिनेट के माध्यम से पेश किया गया।’ स्मृति ईरानी ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि बहुप्रतीक्षित नई राष्ट्रीय कपड़ा नीति जल्द प्रभाव में आएगी। इससे पहले उन्होंने बुधवार को ट्वीट किया, ‘पिछले दो साल में मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सभी कदम छात्रों के लिए सीखने के अवसर बढ़ाने और शिक्षा की गुणवत्ता को सुधारने पर केंद्रित रहे हैं।’ स्मृति ने एक और ट्वीट में कहा, ‘मैं सभी के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित करने के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपने को हकीकत में बदलने में सतत सहयोग देने के लिए मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अधिकारियों का धन्यवाद करती हूं।’

अपने नए मंत्रालय के बारे में बात करते हुए स्मृति ने कपड़ा क्षेत्र को मजबूत करने का संकल्प किया और कहा कि उनके प्रयास प्रमुख रूप से कौशल विकास और अधिक युवाओं को जोड़ने पर केंद्रित रहेंगे। उन्होंने कहा, ‘हम सुनिश्चित करेंगे कि मंत्रालय का आधार बन कर काम करने वाले बुनकरों को उनकी आय बढ़ाने के लिए पूरा समर्थन मिले।’ स्मृति ने गंगवार को कपड़ा मंत्रालय की ओर से उठाए गए कदमों के लिए बधाई दी। पिछले महीने सरकार ने कपड़ा और परिधान क्षेत्र के लिए 6000 करोड़ रुपए के पैकेज को मंजूरी दी थी।

उन्होंने कहा, ‘संतोष गंगवार को कपड़ा मंत्रालय में उनके योगदान के लिए धन्यवाद और मेरी नई जिम्मेदारी की शुरुआत में उनकी ओर से सहयोग का आश्वासन दिए जाने पर भी उन्हें धन्यवाद।’ स्मृति ईरानी ने कहा, ‘हमारे देश के लिए बेहद महत्त्वपूर्ण कपड़ा और परिधान क्षेत्र को मजबूत करने के लिए कपड़ा मंत्रालय के अधिकारियों के साथ काम करने को लेकर आशान्वित हूं।’

मैं खुश हूं-
खुश हूं कि एक अवसर दिया गया है, खासतौर पर जब इस क्षेत्र के लिए विशेष पैकेज की घोषणा की गई है। यह दिखाती है कि पार्टी और विशेष रूप से प्रधानमंत्री को विश्वास है कि मुझमें उस रोडमैप को लागू करने की क्षमता है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.