ताज़ा खबर
 

कर्नाटक में मराठियों को बचाने के लिए शिवसेना ने गृहमंत्री से हस्तक्षेप की मांग की

शिवसेना ने कर्नाटक के सीमावर्ती इलाके में मराठी बोलने वाली आबादी की ‘रक्षा’ करने के लिए गृहमंत्री राजनाथ सिंह के हस्तक्षेप की मांग की है।
Author मुंबई | November 6, 2016 17:36 pm
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (फाइल फोटो)

शिवसेना ने कर्नाटक के सीमावर्ती इलाके में मराठी बोलने वाली आबादी की ‘रक्षा’ करने के लिए गृहमंत्री राजनाथ सिंह के हस्तक्षेप की मांग करते हुए कहा कि उनपर पर पड़ोसी राज्य में ‘अत्याचार’ किया जा रहा है। शिवसेना नेता नीलम गोरहे ने कहा कि कर्नाटक के बेलगांव और अन्य सीमावर्ती इलाकों में मराठी बोलने वाली आबादी पर जुल्म किया जा रहा है। सिंह को उनको बचाने के लिए हस्तक्षेप करना चाहिए। बीते एक नवंबर को कर्नाटक राज्योत्सव दिवस के मौके पर बेलगांव में काला दिवस रैली में हिस्सा लेने पर क्षेत्रीय संगठन महाराष्ट्र एकीकरण समिति (एमईएस) के कार्यकर्ताओं और मराठी युवकों को गिरफ्तार किए जाने का हवाला देते हुए नीलम ने कहा, ‘‘ कर्नाटक में अब जो हो रहा है वह दुखद है।’’ उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देंवेद्र फडणवीस को कर्नाटक में जो हो रहा है उसका संज्ञान लेना चाहिए और कांग्रेस शासित राज्य में अपने समकक्ष से बात करनी चाहिए।
वीडियो: रामनाथ गोयनका अवॉर्ड्स: पीएम मोदी ने कहा- “आपातकाल पर पुनर्विचार होता रहना चाहिए ताकि कोई और नेता ऐसा करने की न सोचे

शिवसेना की विधायक ने कहा कि शिवसेना ने हमेशा से संयुक्त महाराष्ट्र का समर्थन किया है। हम वहां पर मराठी लोगों के अधिकारों के लिए लड़ रहे हैं। एमईएस नेताओं ने आरोप लगाया था कि उनके कार्यकर्ताओं को कर्नाटक पुलिस पीट रही है और अत्याचार कर रही है। एमईएस ने एक नवंबर को काला दिवस मनाया था। एक नवंबर को समूचे कर्नाटक में कन्नड़ राज्योत्सव दिवस मनाया गया था। उसी दिन राज्य की स्थापना हुई थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग