June 29, 2017

ताज़ा खबर
 

कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुईं रीता बहुगुणा जोशी, कहा- राष्ट्रहित में लिया फैसला

भाजपा से जुड़ने पर रीता बहुगुणा जोशी ने कहा कि उन्होंने राष्ट्र और प्रदेश हित में भाजपा में शामिल होने का फैसला लिया है।

Author October 20, 2016 17:27 pm
रीता बहुगुणा जोशी। (FILE PHOTO)

उत्‍तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। कांग्रेस की वरिष्ठ नेता रीता बहुगुणा जोशी भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गई हैं। रिता बहुगुणा ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में भाजपा की सदस्यता हासिल की। सदस्यता हासिल करने के बाद रीता ने कहा मैंने राष्ट्रहित और प्रदेश हित में यह फैसला लिया है। मैंने बहुत ही सोच समझकर यह फैसला लिया है। जोशी ने सर्जिकल स्ट्राइक पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया पर उसकी आलोचना करते गुए कहा कि हाल के दिनों में हुई गतिविधियों ने मुझे स्तब्ध कर दिया है।

राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए रीता बहुगुणा ने कहा कि सोनिया गांधी हमारी बातें सुनती थीं, लेकिन राहुल नहीं सुनते।उन्होंने कहा, ‘जब सारे विश्व ने इसको स्वीकार कर लिया कि हमने सर्जिकल स्ट्राइक किया है। मुझे यह कतई पसंद नहीं आया कि कांग्रेस या अन्य पार्टियां इस पर सवाल उठाएं। ‘खून की दलाली’ जैसे शब्द का उपयोग किया गया। उससे मैं काफी दुखी हो गई। 24 सालों तक कांग्रेस की सेवा की लेकिन मुझे लगता है कि इसकी साख खत्म हो चुकी है, राहुल गांधी का नेतृत्व लोगों को स्वीकार्य नहीं है।’

वीडियो में देखें- समाजवादी पार्टी में चल रही खींचतान का अंजाम क्या होगा?

रीता बहुगुणा द्वारा पार्टी छोड़ने को कांग्रेस ने धोखा करार दिया और कहा कि भाजपा ‘गद्दारों की फौज’ जुटा रही है। यूपी कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर ने रीता बहुगुणा के भाजपा में शामिल होने पर कहा, ‘उन्होंने (रीता बहुगुणा जोशी) अपनी परिवार की रीत को आगे बढ़ाया है। उनके जाने से यूपी कांग्रेस को कोई असर नहीं पड़ेगा। इनके भाई भी उत्तराखंड में कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए थे, वहां भी हमें कोई फर्क नहीं पड़ा।’

Read Also: रीता बहुगुणा जी, क्‍या सच में आपके भाजपा में जाने के कारण वही हैंं, जो आपने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में गिनाए

बहुगुणा के भाजपा में शामिल होने की चर्चा कई दिनों से थी। इससे पहले मई में भी जोशी के समाजवादी पार्टी में शामिल होने की अटकलें लगाई गई थीं। तब रीता मुख्‍यमंत्री अखिलेश यादव से अचानक मिलने जा पहुंची थी जिसके बाद चर्चाओं को बल मिला। बता दें, उत्‍तर प्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा की बेटी रीता, 2007 से 2012 के बीच यूपी कांग्रेस कमेटी की अध्‍यक्ष रही हैं। बहुगुणा राज्‍य में कांग्रेस का जाना-पहचाना ब्राह्मण चेहरा हैं जिनका मजबूत जनाधार है।

यूपी से अलग, एक दिलचस्‍प मुकाबला दिल्‍ली के फिरोजशाह कोटला स्‍टेडियम में खेला जा रहा है। जहां भारत व न्‍यूजीलैंड की टीमें सीरीज का दूसरा वनडे खेल रही हैं। मैच की लाइव अपडेट्स जानने के लिए यहां क्लिक करें।

Read Also: यूपी बीजेपी अध्यक्ष केशव प्रसाद मौर्या ने कहा- मुस्लिम महिलाओं की जिंदगी नर्क हो जाती है, बीजेपी खत्म कराएगी तीन तलाक

रीता बहुगुणा जोशी मूल रूप से समाजवादी पार्टी की नेता रही हैं। वह 1995-2000 के बीच इलाहाबाद से समाजवादी पार्टी की मेयर रही थीं। उन्‍होंने सुल्‍तापुर संसदीय क्षेत्र से सपा के टिकट पर चुनाव भी लड़ा था। उनके अलावा पूर्व केन्‍द्रीय मंत्री बेनी प्रसाद वर्मा भी सपा में ही थे, जो बाद में कांग्रेस में शामिल हुए। वर्मा ने 2014 में कांग्रेस की हार के बाद सपा का दामन थामा और राज्‍य सभा सीट पाने में कामयाब रहे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 20, 2016 3:05 pm

  1. K
    khan
    Oct 21, 2016 at 6:40 am
    चालू औरत है जह देखी भरी परत वही गुजारी सारी रात CM तो नहीं बनपाये गई मगर बंदरिया बंजाएगी
    Reply
    1. K
      khan
      Oct 21, 2016 at 6:41 am
      ये राष्टीय हित नहीं था ये CM हित था
      Reply
      1. G
        G.D.Bairwa
        Oct 20, 2016 at 11:12 am
        BJP agar UP me har gai to Reeta ji kanha, kis party me or kya bahana lekar jayegi -Rashtra hit me liya fai-lagata he ab rashtra hit niji hit se bahut chauta ho a he. Desh ka kanoon hi galat he -agar log kisi neta ko vote dete he to vo party ki ideology ko vote dete he agar neta party badal leta he to vo ideology bhi badal leta he - is avastha me vah fajneeti me bane rahne ke mandate kho deta he -use dubara choonav ladkar nai party ki mandate ke ar chunav jeet kar aana chaiye
        Reply
        1. S
          Sidheswar Misra
          Oct 20, 2016 at 10:28 am
          विजय बहुगुणा द्वारा उत्तराखंड में जो किया उसी से रीता जी को कांग्रेस से जाना पड़ा। यह परिवार विश्वाश खो चूका था।
          Reply
          सबरंग