March 25, 2017

ताज़ा खबर

 

गार्ड का मर्डर करने वाला बीड़ी किंग जेल से चला रहा है अपना बिजनेस, फोन से दी भाईयों को धमकी

निशाम एक गार्ड की हत्या करने पर अभी जेल में 24 साल की सजा काट रहा है।

Author October 22, 2016 17:34 pm
मोहम्‍मद निशाम अभी जेल में सजा काट रहा है।

बीड़ी कारोबारी मोहम्मद निशाम ने कथित रूप से जेल में फोन का इस्तेमाल करते हुए अपने भाइयों को धमकी दी। कारोबारी को एक सुरक्षा कर्मी की हत्या करने के मामले में दोषी करार दिया जा चुका है। निशाम के दो भाइयों ने त्रिशूर के ग्रामीण अधीक्षक आर निशांतनी के सामने निशाम के खिलाफ शिकायत दर्ज की है। शिकायतकर्ता ने कहा है कि निसाम ने कन्नूर मध्य जेल से उन्हें फोन पर धमकी दी है। वहीं, मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक निसाम अपने कारोबारी साथियों, पत्नी और दूसरे संबंधियों के साथ लगातार फोन पर बातचीत करके संपर्क में बना हुआ रहता है।

 

रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया करते हुए विपक्ष के नेता रमेश चेन्नीथला ने कहा है कि यह चिंता का विषय है कि निशाम के साथ जेल में वीआईपी जैसा व्यवहार किया जा रहा है। साथ ही उन्होंनने मांग की है कि जो भी अधिकारी उसे ये सुविधाएं उपलब्ध करा रहे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाए। जेल अधिकारियों पर निशाम को विशेष सुविधाएं जाने के आरोप लगने के बाद पुलिस ने इस मामले में जांच का आदेश भी दिया था। पिछले साल 29 जनवरी को त्रिशुर के ‘शोभा सिटी’ में एक सुरक्षाकर्मी द्वारा देर से रिहायशी द्वार खोलने के कारण निशाम ने सुरक्षाकर्मी को बुरी तरह पीटा था और उसके ऊपर अपनी हमर गाड़ी चढ़ा दी थी। इस घटना में सुरक्षाकर्मी की जान चली गई थी। अभी निशाम 24 साल की सजा काट रहा है।

वीडियों में देखें- जनसत्ता.कॉम का स्पीड बुलेटिन

Read Also: यहां क्लिक करके देखें मोहम्‍मद निशाम की शाही जिंदगी की झलक

निशाम पर और भी कई मामले दर्ज हैं। उस पर उसकी पत्‍नी भी घरेलू हिंसा का मामला दर्ज करा चुकी है। लग्‍जरी लाइफ जीने के शौकीन निशाम पर यह भी आरोप है कि उसने एक महिला पुलिसकर्मी को अपने कार में लॉक कर दिया था।

Read Also: हमर से कुचलकर गार्ड की हत्‍या करने वाले बीड़ी कारोबारी को उम्रैकद, 70 लाख रुपए जुर्माना

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 22, 2016 5:33 pm

  1. No Comments.

सबसे ज्‍यादा पढ़ी गईंं खबरें

सबरंग