December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

जम्मू-कश्मीर: शहीद संदीप कुमार रावत का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

शहीद संदीप के पिता भी देश की सेवा कर चुके हैं।

Author देहरादून | October 30, 2016 05:39 am
उरी आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देते भारतीय सैनिक। (PTI Photo)

जम्मू-कश्मीर के तंगधार सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास घुसपैठ की कोशिश नाकाम करने के दौरान शहीद हुए राइफलमैन संदीप कुमार रावत के शव का शनिवार को हरिद्वार में राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया।  मुख्यमंत्री हरीश रावत के नेतृत्व में बड़ी संख्या में गणमान्य लोगों ने शहीद को श्रद्धांजलि अर्पित की। संदीप का शव सुबह ही यहां पहुंचा। संदीप के शव पर पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद रावत ने कहा कि मैं बहादुर पिता के बहादुर बेटे की शहादत को सलाम करता हूं। आजकल कोई भी दिन ऐसा नहीं बीत रहा, जब कोई मां देश के लिए अपना बेटा नहीं खो रही। ये सभी बलिदान देश के लिए हैं।

शहीद संदीप के पिता भी देश की सेवा कर चुके हैं। संदीप पिछले साल जनवरी में ही सेना की छठी गढ़वाल राइफल्स से जुड़े थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि पूरा देश और राज्य दुख की इस घड़ी में शहीद के परिजनों के साथ है। उन्होंने कहा कि यह समय आतंकवाद और पाकिस्तान के खिलाफ निर्णायक युद्ध छेड़ने का है। पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक, राज्य भाजपा अध्यक्ष अजय भट्ट और पार्टी महानगर अध्यक्ष उमेश अग्रवाल ने भी शहीद को श्रद्धांजलि अर्पित की।

शहर के नवादा स्थित घर पर तिरंगे में लिपटे ताबूत में संदीप के शव के पहुंचने की खबर मिलते ही बड़ी संख्या में लोग सड़कों पर आ गए। शहीद के शव को इसके बाद हरिद्वार ले जाया गया और खड़खड़ी श्मशान घाट पर पुलिस के गार्ड आॅफ आॅनर के बाद उसका अंतिम संस्कार कर दिया गया। तंगधार में नियंत्रण रेखा के समीप घुसपैठ की कोशिश को नाकाम करते समय गुरुवार को संदीप को गोलियां लग गई थीं।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 30, 2016 5:39 am

सबरंग