December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को WhatsApp पर मिले शादी के 44000 प्रस्ताव

तेजस्वी यादव ने राज्य में खराब सड़कों की शिकायत करने के लिए जनता को एक व्हाट्सऐप नंबर दिया था।

बिहार के उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव (फाइल फोटो)

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को व्हाट्सऐप पर विवाह के 44 हजार से अधिक प्रस्ताव मिले हैं। राजद प्रमुख लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी ने राज्य में खराब सड़कों की शिकायत करने के लिए जनता को एक व्हाट्सऐप नंबर दिया था। तेजस्वी के पास राज्य के लोक निर्माण विभाग का भी प्रभार है। समाचार एजेंसी आईएएनएस को बिहार सरकार के अधिकारी ने बताया, “तेजस्वी द्वारा सार्वजनिक किए गए नंबर पर आए 47 हजार संदेशों में करीब 44 हजार शादी के प्रस्ताव से जुड़े हुए थे। सड़कों की मरम्मत से जुड़े केवल तीन हजार संदेश आए।” तेजस्वी फेसबुक और ट्वीटर पर भी काफी सक्रिय हैं।

सरकारी अधिकारी के अनुसार ज्यादातर लड़कियों को लगा कि दिया गया नंबर 26 वर्षीय तेजस्वी का निजी नंबर है। विवाह प्रस्ताव भेजने वाली लड़कियों ने अपने बॉयोडाटा में अपनी लंबाई, त्वचा का रंग और लंबाई जैसे ब्योरे भी भेजे हैं। लड़कियों से मिल हजारों विवाह प्रस्ताव पर प्रतिक्रिया देते हुए तेजस्वी ने मजाक करते हुए कहा, “अच्छा है कि मैं विवाहित नहीं हूं वरना मुसीबत में पड़ जाता।” पत्रकारों से बात करते हुए तेजस्वी ने कहा कि वो अरेंज मैरिज करना पसंद करेंगे।

वीडियो: जेम्स बॉण्ड पीयर्स ब्रासनन ने बताया कि उन्होंने क्यों किया पान पराग का विज्ञापन- 

तेजस्वी के पिता लालू यादव और मां राबड़ी देवी दोनों बिहार के सीएम रह चुके हैं। जब पिछले विधान सभा चुनाव में राजद ने जदयू के साथ मिलकर चुनाव लड़ा तो इस गठबंधन को पूर्ण बहुमत प्राप्त हुआ। चारा घोटाले में सजा पा चुके लालू यादव छह सालों तक चुनाव नहीं लड़ सकते इसलिए उन्होंने अपने बड़े बेटे तेज प्रताप यादव और छोटे बेटे तेजस्वी यादव को चुनाव में उतारा। लालू के दोनों ही बेटे चुनाव जीतने के साथ ही बिहार सरकार में मंत्री भी बने। हालांकि लोगों के लिए हैरानी की बात ये रही कि लालू ने नीतीश कुमार की कैबिनेट में बड़े बेटे पर तरजीह देते हुए अपने छोटे बेटे तेजस्वी को राज्य का उप-मुख्यमंत्री बनावाया।

राजनीति में आने से पहले तेजस्वी क्रिकेट खेलते थे। वो आईपीएल में दिल्ली की तरफ से खेल चुके हैं। क्रिकेट से राजनीति में तेजस्वी की अपनी स्कूली पढ़ाई नहीं पूरी की है। चुनाव आयोग में दिए गए उनके हलफनामे के अनुसार उन्होंने दिल्ली पब्लिक स्कूल से नौवीं तक की पढ़ाई की है।

Read Also: बेटे तेजस्वी ने मिलाया लालू के सुर में सुर, बोले-नीतीश मेरे राजनीतिक गुरू, वही हैं पीएम मैटेरियल

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 21, 2016 5:44 pm

सबरंग