ताज़ा खबर
 

मथुरा के मंदिर में रावण का स्तुतिगान

’ रावण की अच्छाइयां गिनाते हुए सारस्वत ने कहा कि उसने अपने भाइयों और बेटे के मारे जाने के बाद भी सीता के साथ किसी तरह का दुर्व्यहार नहीं किया।
Author मथुरा | October 11, 2016 23:07 pm
नोएडा के बिसरख गांव में बने रावण के मंदिर में हुई तोड़फोड़। (प्रतिकात्मक फोटो)

देशभर में आज दशहरे के मौके पर जहां रावण के पुतलों का दहन किया गया वहीं यहां यमुना पर नये पुल के पास शिव मंदिर परिसर में एक घंटे तक लंका के राजा का स्तुतिगान किया गया। ‘लंकेश भक्त मंडल’ के सदस्यों ने न केवल रावण के प्रति सम्मान प्रकट किया बल्कि यह निर्णय भी लिया कि वे लोगों से हर साल भगवान शिव के इस परम भक्त के पुतले नहीं जलाने का आग्रह करेंगे।

लंकेश भक्त मंडल के अध्यक्ष और वकील ओमवीर सारस्वत ने कहा, ‘‘मंडल अब न केवल हर साल रावण के पुतले के दहन की बुराई के खिलाफ मथुरा के लोगों को जागरच्च्क करने का प्रयास करेगा बल्कि पड़ोसी जिलों में भी यह संदेश प्रसारित करेगा।’’ रावण की अच्छाइयां गिनाते हुए सारस्वत ने कहा कि उसने अपने भाइयों और बेटे के मारे जाने के बाद भी सीता के साथ किसी तरह का दुर्व्यहार नहीं किया। उन्होंने कहा, ‘‘उन्होंने सेतुबंध रामेश्वरम के निर्माण के दौरान एक पुजारी की भूमिका निभाई जबकि इसका इस्तेमाल राम ने ही लंका पर हमले के लिए किया।’’ सारस्वत ने कहा, ‘‘यह न केवल अपमानजनक है बल्कि हर साल ऐसे आदर्श व्यक्तित्व का पुतला जलाना इस देश की संस्कृति के खिलाफ है।’’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग