May 24, 2017

ताज़ा खबर

 

मुंबई जाकर राज ठाकरे से मिले बाबा रामदेव और सीएम देवेंद्र फडणवीस के परिवार के साथ भी बिताया समय

योग गुरू रामदेव ने आज यहां महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे से उनके आवास पर मुलाकात की।

रामदेव का घर मेंं स्वागत करते राज ठाकरे

योग गुरू रामदेव ने आज यहां महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे से उनके आवास पर मुलाकात की। हालांकि यह नहीं पता चल सका कि मुलाकात में उन्होंने क्या चर्चा की, लेकिन ठाकरे ने रामदेव को हिन्दू योग और आयुर्वेद का सबसे बड़ा वैश्विक प्रचारक करार दिया। मनसे नेता ने अपनी एफएमसीजी कंपनी पंतजलि आयुर्वेद लिमिटिड के माध्यम से दुनियाभर में योग और आयुर्वेद का प्रचार करने के रामदेव के प्रयासों की भी सराहना की। यह मुलाकात दादर में ठाकरे के आवास ‘कृष्ण कुंज’ में सुबह करीब साढ़े नौ बजे हुई। ठाकरे ने संवाददाताओं से कहा, बाबा रामदेव के साथ अच्छी मुलाकात हुई। वह भारत में हिन्दू परंपरा योग और आयुर्वेद के सबसे बड़े वैश्विक प्रचारक है। रामदेव या पंतजलि की ओर से मुलाकात को लेकर कोई बयान जारी नहीं किया गया।

राज ठाकरे के अलावा बाबा रामदेव ने महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस से और उनके परिवार से मुलाकात की। रामदेव की ये दोनों की मुलाकातें काफई दिलचस्प रहीं। आपको बता दें कि बाबा रामदेव इन दिनों अपने एक बयान की वजह से काफी चर्चाओं में हैं। हरियाणा की एक अदालत ने ‘‘भारत माता की जय’’ बोलने से इंकार करने वालों के खिलाफ यहां पिछले साल टिप्पणी करने वाले योग गुरू रामदेव के खिलाफ शुक्रवार (12 मई) को जमानती वारंट जारी किया। कांग्रेस नेता और हरियाणा के पूर्व मंत्री सुभाष बत्रा ने रामदेव के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग करते हुए शिकायत दर्ज की थी। इसके बाद अतिरिक्त न्यायिक मजिस्ट्रेट हरीश गोयल ने दो मार्च को रामदेव के खिलाफ समन जारी किया था।

बत्रा के वकील ओ.पी चुग ने संवाददाताओं से कहा कि अदालत ने रामदेव के खिलाफ जमानती वारंट जारी किया है। अदालत ने रामदेव को एक लाख रूपए का निजी मुचलका देने को कहा है। अदालत ने उन्हें 14 जून को पेश होने को भी कहा है।

पिछले साल अप्रैल में यहां एक समारोह में रामदेव ने ‘‘भारत माता की जय’’ बोलने से इंकार करने वालों का सिर कलम करने संबंधी कथित टिप्पणी की थी। उनकी टिप्पणी की विपक्षी दलों सहित विभिन्न पक्षों ने तीखी आलोचना की थी।

उल्लेखनीय है कि पिछले साल योग गुरू बाबा रामदेव के खिलाफ हैदराबाद पुलिस ने केस दायर किया था। केस मोहम्‍मद बिन उमर की शिकायत पर दर्ज किया गया था। उनपर आरोप है कि रामदेव ने कहा था कि अगर संविधान से उनके हाथ बंधे नहीं होते तो ‘भारत माता की जय’ का नारा नहीं लगाने वाले लाखों लोगों का वह सिर कलम कर देते।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 17, 2017 4:18 pm

  1. No Comments.

सबरंग