ताज़ा खबर
 

राम गोपाल वर्मा ने पूछा-इटली के लोग एंटी कृष्णा स्क्वॉड बनाएं तो योगी आदित्यनाथ को कैसा लगेगा

रविवार को वकील प्रशांत भूषण ने एंटी रोमियो स्क्वाड पर सवाल उठाते हुए भगवान कृष्ण को भी राजनीति में खींच लिया था।
फिल्मकार राम गोपाल वर्मा (File Photo)

अपने बेबाक बयानों से अकसर सुर्खियों में रहने वाले निर्देशक राम गोपाल वर्मा ने यूपी की योगी आदित्यनाख सरकार की मुहिम एंटी रोमियो स्क्वॉड पर तंज कसा है। 54 साल के डायरेक्टर ने ट्विटर पर सिलसिलेवार ट्ववीट करते हुए इस मुहिम के नाम पर निराशा जताई है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा, टीमों का नाम एंटी रोमियो रखने से मैं परेशान हूं। एक शानदार प्रेमी रोमियो ईव टीजिंग करने वाले गुंडे का पर्याय कैसे बन सकता है। अगर भारत में उन्हें एंटी रोमियो स्क्वॉड कहा जाता है तो अगर इटली के लोग अपने देश में एक समूह को एंटी कृष्णा स्क्वॉड कहें तो क्या योगी आदित्यनाथ को ठीक लगेगा।
सिलसिलेवार ट्वीट में उन्होंने कहा कि सरकार के आदेश पर इस नाम पर चालू रखना गैरजिम्मेदाराना रवैया है। उन्होंने कहा कि मुझे पता है कि यह वाक्यांश रोडसाइड रोमियो से पैदा हुआ होगा, लेकिन सरकारी आदेश के तहत इसे इस्तेमाल करना गैरजिम्मेदाराना है। उन्होंने कहा कि सभी को रोमियो नाम देना उस नाम के शख्स की छवि को नुकसान पहुंचाने जैसा है। सरकार सीरीज के डायरेक्टर ने मुताबिक इस मुहिम का नाम एंटी ईव टीजर्स स्क्वॉड होना चाहिए। उनके इस ट्वीट पर एक यूजर ने जवाब दिया कि आरजीवी जैसे लोगो को ट्विटर पर बैन कर देना चाहिए। इसके बाद रामगोपाल वर्मा ने उस यूजर को दिए जवाब में कहा, मैंने सिर्फ दोनों की तुलना की है और रोमियो एक सच्चा प्रेमी था, इश्कबाज नहीं। उन्होंने खुद को अनफॉलो करने को भी कहा।

बता दें कि योगी आदित्यनाथ ने यूपी की सत्ता संभालते ही राज्य में एंटी रोमियो स्क्वॉड का गठन किया था, जिसके बाद अलग-अलग शहरों में पुलिस ने मनचलों को पकड़ा था। कई जगह इसके उल्लंघन के मामले भी सामने आए थे। रविवार को वकील प्रशांत भूषण ने एंटी रोमियो स्क्वाड पर सवाल उठाते हुए भगवान कृष्ण को भी राजनीति में खींच लिया था। प्रशांत भूषण ने ट्वीट करते हुए लिखा था कि रोमियो ने केवल एक से प्यार किया था जबकि भगवान कृष्ण तो लड़कियों को छेड़ने के लिए मशहूर थे। प्रशांत भूषण ने आगे लिखा कि क्या आदित्यनाथ के अंदर हिम्मत है कि वो एंटी रोमियो स्क्वाड को एंटी कृष्ण स्क्वाड कहेंगे?

वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी के लिए केजरीवाल गरीब क्लाइंट की तरह; कहा- "फीस नहीं दे पाए तो मुफ्त में लड़ूंगा मुकदमा", देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. M
    manish agrawal
    Apr 4, 2017 at 11:30 pm
    JO HINDU HIT KI BAAT KAREGA WOHI DESH PAR RAAJ KAREGA
    Reply
  2. M
    manish agrawal
    Apr 4, 2017 at 11:28 pm
    Hindostan ek loktantrik mulk hai isliye aap Anti Romeo Sqad ka virodh kar sakte hain lekin Bhagwan ShriKrishna ko isme ghasitne ka haq Ramgopal Verma ko kisne diya? Hindus ko chahiye ki iss badtamiz aur nalayak insaan ki movies dekhna band kar de."Satanic Verses" par rok lagaane wali govt of India, Ramgopal Verma ko arrest kyu nahi karti? kya Hindostan mai sirf Muslims ka sammaan hai ? kya Hindus ki koyi value nahi? kabhi koi Prashant Bhushan, Bhagwan ShriKrishna ko gaali deta hai, kabhi koyi Sanjay Bhansali, Maharani Padmavati ka galat chitran karne ki koshish karta hai, kabhi koyi chaarachor Lalu Yadav, Gau maans khane ki vakaalat karta hai, kabhi koyi Azam Khan, Sadhvi Praachi ke liye behudi baat kahata hai ! Akhir,iss desh ki total tax income ka 95℅ dene wale Hindus ye apmaan kyu jhelte hain? yadi ye govt, bahusankhyak Hindus ke sammaan ki rakshaa nahi kar sakti to ham Hindus ko bhi chahiye ki govt ko tax dena band kar de. JO HINDU HIT KI BAAT KAREGA WOHI DESH PAR RAAJ KATEGA !
    Reply
सबरंग