ताज़ा खबर
 

अलवर: अब फलाहारी बाबा गिरफ्तार, छत्तीसगढ़ की महिला ने लगाया है यौन शोषण का आरोप

छत्तीसगढ़ की महिला ने बाबा फलाहारी पर रेप का आरोप लगाया है।
एक पुरानी तस्वीर में गृह मंत्री राजनाथ सिंह के साथ फलाहारी बाबा (फोटो-FACEBOOK/Deep Shikha)

राजस्थान के अलवर जिले की अरावली पुलिस ने बिलासपुर (छतीसगढ़) की एक विधि छात्रा का कथित तौर पर यौन शोषण करने के मामले में प्रपन्नाचार्य फलाहारी महाराज को आज अलवर के एक निजी अस्पताल से गिरफ्तार कर लिया। अरावली थानाधिकारी एच आर मीणा ने बताया कि फलाहारी बाबा (70) को गिरफ्तार कर चिकित्सा जांच के लिए राजकीय राजीव गांधी चिकित्सालय ले जाया गया है। अस्पताल में मेडिकल जांच होने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। इधर अस्पताल सूत्रों ने बताया कि यौन शोषण के आरोप में गिरफ्तार फलाहारी महाराज के स्वास्थ्य की जांच के लिए तीन सदस्यीय मेडिकल बोर्ड गठित किया गया है। बोर्ड महाराज की चिकित्सा जांच करेगा। महाराज की गिरफ्तारी के वक्त अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया गया था। सूत्रों के मुताबिक पुलिस के सामने फलाहारी बाबा ने स्वीकार किया है कि वो घटना के दिन पीड़िता के साथ था। खबर ये भी है कि फलाहारी बाबा ने पीड़िता के दूसरे आरोपों को भी स्वीकार कर लिया है।

रिपोर्ट के मुताबिक प्रपनाचार्य महाराज उर्फ फलाहारी महाराज का अलवर में काफी बड़े इलाके में आश्रम है। बाबा के आश्रम में स्कूल, धर्मशालाएं हैं। बाबा फलाहारी के देश-विदेश में लाखों अनुयायी हैं। बाबा फलाहारी अन्न का सेवन नहीं कर, केवल फलों का ही सेवन करने की वजह से फलाहारी बाबा के नाम से पहचाना जाता है। अरावली थानाधिकारी हेमराज मीणा ने बताया कि बिलासपुर की इक्कीस साल की वकालत का अध्ययन कर रही पीड़िता ने छत्तीसगढ़ के बिलासपुर थाने में प्रपनाचार्य महाराज उर्फ फलाहारी महाराज के खिलाफ अलवर आश्रम में यौन शोषण करने की शिकायत दी थी। बिलासपुर पुलिस ने जीरो प्राथमिकी अरावली थाने भेजी थी, जिस पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।

हेमराज मीणा ने बताया कि जब पुलिस फलाहारी बाबा से पूछताछ के लिए बाबा के आश्रम पर पहुंची तो पुलिस को खबर मिली कि वे अलवर के एक निजी अस्पताल में भर्ती हैं। पहले तो पुलिस ने बाबा फलाहारी का इलाज कर रहे डॉक्टरों से बात की। डॉक्टरों की अनुमति से मिलने के बाद पुलिस ने फलाहारी बाबा से पूछताछ की और उसे गिरफ्तार किया। पुलिस की शुरुआती जांच में पता चला है कि पीड़िता कानून की पढ़ाई के दौरान 7 अगस्त को बाबा के आश्रम गई थी। पीडिता का आरोप है कि फलाहारी ने उसी दिन एक शिष्य की मदद से पीड़िता को अपने कमरे में बुलाया और उसका यौन शोषण किया। पहले तो पीड़िता ने ये वाकया किसी को नहीं बताया। लेकिन बात में उसने पूरी घटना की जानकारी अपने घरवालों को दी। इसके बाद लड़की की ओर से केस दर्ज कराया गया।

बाबा फलाहारी का धर्म और अध्यात्म के अलावा सियासत की दुनिया में भी काफी दखल है। सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह और कई केन्द्रीय मंत्रियों के साथ फलाहारी बाबा की तस्वीरें काफी वायरल हो रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. Sidheswar Misra
    Sep 23, 2017 at 6:11 pm
    जिन बाबाओं के पास राजनितिक लगाव हो समझ लो दाल काली . राज ी धन माया से विरक्ति ही सन्यास
    (0)(0)
    Reply
    1. J
      jameel shafakhana
      Sep 23, 2017 at 4:43 pm
      LING KA SIZE BADHAYEN, NILL SHUKRANU, DHAAT OR SWAPANDOSH KA SAFAL ILAJ CALL 9456088812 VISIT JAMEELSHAFAKHANA
      (0)(0)
      Reply
      सबरंग