ताज़ा खबर
 

पत्नी से तंग आकर गिरफ्तार होने के लिए थाने पहुंचा पति, मना करने पर ACP को जड़ दिया घूसा

पति पत्नी के बीच का झगड़ा समझकर एसीपी देशराज यादव दोनों के बीच सुलह समझौता कराने का प्रयास करने लगे। एसीपी ने योगेश को समझाते हुए उसे शांत करने के लिए उसके कंधे पर हाथ रख दिया। इसके बाद जो हुआ वो शायद एसीपी यादव सारी जीवन ना भूल पाएं।
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

राजस्थान के शहर जयपुर में एक बेहद दिलचस्प किस्सा सामने आया है। यहां रहने वाले 30 साल के एक शख्स सिर्फ इसलिए पुलिस की हिरासत में रहना चाहता था क्योंकि वो अपनी पत्नी से दूर रहना चाहता है। इसके लिए इस शख्स ने एसीपी रैंक के अधिकारी को घूसा तक जड़ दिया। ये कहानी शुरू हुई गुरुवार सुबह जब 30 साल का योगेश शिप्रा पाथ पुलिस स्टेशन पहुंचा। उसने वहां मौजूद पुलिस अधिकारी से उसे गिरफ्तार करने की मांग की।  योगेश ने वहां पहुंचकर कहा कि मैं जेल जाना चाहता हूं मैंने अपनी पत्नी की पिटाई की है मुझे जेल में डाल दो। इसके तुरंत बाद उसकी पत्नी भी थाने पहुंच गई और वहां पहुंचकर अपने पति के खिलाफ केस दर्ज करने की मांग करने लगी।

पति पत्नी के बीच का झगड़ा समझकर वहां मौजूद एसीपी देशराज यादव दोनों के बीच सुलह समझौता कराने का प्रयास करने लगे। एसीपी ने योगेश को समझाते हुए उसे शांत करने के लिए उसके कंधे पर हाथ रख दिया। इसके बाद जो हुआ वो शायद एसीपी यादव सारी जीवन ना भूल पाएं। गुस्से में योगेश ने एसीपी के मुंह पर जोरदार मुक्का दे मारा। इस हमले के कारण एसीपी के मुंह से खून निकलने लगा। एसीपी यादव जो एक से बढ़कर एक मुजरिमों का सामना किया होगा लेकिन एक आम आदमी के इस तरह के हमले की उन्होंने सोची भी नहीं होगी। दोनों पति पत्नी लगातार एक दूसरे के खिलाफ केस दर्ज करने की बात करते रहे। ऑन ड्यूटी पुलिस अधिकारी पर हमला करने के जुर्म में पुलिस ने योगेश को  गिरफ्तार कर लिया और जेल भेज दिया। जेल जाने तक भी वो लगातार कहता रहा कि पत्नी के कारण वो बेहद परेशान है। तो वहीं घायल पुलिस अधिकारी को तुरंत हॉस्पिटल पहुंचाया गया। इस मामले पर पुलिस का कहना है कि आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया। उस पर ऑन ड्यूटी सरकारी अधिकारी पर काम करने से रोकने का केस बनाया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग