ताज़ा खबर
 

राजस्थान: शौचालय के लिए प्रशासन दे रहा गांववालों को धमकी- बनवाओ वरना काट देंगे बिजली

ग्राम पंचायत द्वारा सर्वे किया गया था जिसमें यह बात सामने आई थी कि लोगों ने प्रशासन के कहने के बावजूद अपने घरों में शौचालय नहीं बनवाया है जिसके लिए उनपर फाइन भी लगाया गया है।
Author भीलवाड़ा | August 20, 2017 16:04 pm
इस तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

केंद्र की बीजेपी सरकार देश में स्वच्छ भारत अभियान के तहत अक्‍टूबर 2014 से 9,093 करोड़ रुपए खर्च कर एक करोड़ 80 लाख शौचालय बनवा चुकी है। देश में जिस भी राज्य में बीजेपी की सरकार वहां पर लोगों को खुले में शौच ने करने के प्रति जागरूक करने के लिए अभियान भी चलाया जा रहा है। वहीं राजस्थान से खबर आई है कि भीलवाड़ा जिले के एसडीएम द्वारा ग्रामीणों को धमकी दी है कि शौचालय बनवाओ वरना उनके गांव की बिजली काट दी जाएगी। यह मामला गंगीथला गांव का है। यह हैरान कर देने वाली धमकी एसडीएम करतार सिंह द्वारा दी गई है।

करतार सिंह ने ग्रामीणों से कहा है कि अगर वे 15 दिनों के बाद गांव की बिजली की सप्लाई को कटवा देंगे अगर वे अपने घरों में शौचालय का निर्माण नहीं करवाएंगे। करतार सिंह का दावा है कि गांववालों को कई बार खुले में शौच न करने को लेकर जागरुक किया गया है और उनसे शौचालय का निर्माण करने के लिए भी कहा गया है लेकिन केवल 19 प्रतिशत ही शौचालय का निर्माण हो पाया है। ग्राम पंचायत द्वारा सर्वे किया गया था जिसमें यह बात सामने आई थी कि लोगों ने प्रशासन के कहने के बावजूद अपने घरों में शौचालय नहीं बनवाया है जिसके लिए उनपर फाइन भी लगाया गया है।

एसडीएम सिंह ने कहा कि लोगों द्वारा शौचालय का निर्माण न करवाए जाने के कारण ग्रामीणों को मैंने यह आदेश दिए हैं कि अगर जल्द ही शौचालय का निर्माण नहीं कराया जाता है तो उनकी बिजली काट दी जाएगी औऱ साथ ही उनका राशन भी बंद कर दिया जाएगा। वहीं एसडीएम के इस आदेश को उच्च अधिकारियों ने बहुत ही कठोर कदम बताया जिसके बाद इस आदेश को वापस ले लिया गया। इस मामले पर बात करते हुए भीलवाड़ा के कलेक्टर मुक्तानंद अग्रवाल ने कहा कि एसडीएम से इस आदेश में कुछ बदलाव करने के लिए कहा गया है क्योंकि यह बहुत ही कठोर आदेश है।

देखिए वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.