ताज़ा खबर
 

पत्नी के सामने 2 लोगों ने मारी पति को गोली, महिला ने कहा- मायके वालों ने कराई हत्या

शादी के बाद ममता के पिता जीवन राम चौधरी और मां उसपर शादी तोड़कर घर वापस आने का दवाब बनाने लगे लेकिन उसने मना कर दिया था।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

जयपुर में 28 वर्षीय एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी गई। युवक की पत्नी ने इस हत्या का आरोप अपने परिजनों पर लगाया है। 30 वर्षीय महिला का कहना है कि उसके परिजनों ने हत्यारों को सुपारी देकर उसके पति की हत्या कराई है। महिला का कहना है कि आरोपियो ने उसके पति की हत्या उसकी आंखों के सामने की। प्राप्त जानकारी के अनुसार ममता चौधरी ने डेढ़ साल पहले केरल के रहने वाले इंजीनियर अमित नैयर से शादी की थी। ममता राजस्थान की रहने वाली है और वह जाट समुदाय से ताल्लुक रखती है। अमित ममता के पड़ोस में ही रहता था जब उनकी दोस्ती हुई। यह दोस्ती प्यार में बदल गई। ममता के परिजनों को उनका यह रिश्ता पसंद नहीं था।

ममता के परिजनों का कहना था कि दोनों एक समुदाय से ताल्लुक नहीं रखते इसलिए दोनों की शादी नहीं हो सकती। परिवार से मंजूरी न मिलने के बावजूद दोनों ने शादी कर ली और दोनों जयपुर में रहने लगे। एक पुलिस अधिकारी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार शादी के बाद ममता के पिता जीवन राम चौधरी और मां उसपर शादी तोड़कर घर वापस आने का दवाब बनाने लगे लेकिन उसने मना कर दिया था। बुधवार को शादी के बाद पहली बार ममता के परिजन उसके घर पहुंचे तो ममता उनके लिए चाय लेने चली गई।

छह महीने की गर्भवती ममता ने जैसे ही अपने मां-बाप के लिए मेज पर चाय रखी कि दो लोग घर में घुस आए। वे लोग ममता को जबरदस्ती अपने साथ ले जाने की कोशिश करने लगे। अमित ने बीच में आकर उन्हें रोकना चाहा तो उन्होंने अमित पर चार गोलियां चला दी। इसके बाद वे लोग वहां से भाग गए। ममता तुरंत ही खून से लतपत अमित को लेकर पास के अस्पताल में पहुंची, जहां पर इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया। डॉक्टरों का कहना था कि अमित का खून काफी बह चुका था जिसके कारण उसको बचाया नहीं जा सका। पुलिस ने इस मामले में ममता के परिजनों और अन्य दो आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।

 

देखिए वीडियो - जयपुर: नगर निगम की बैठक के दौरान कांग्रेस पार्षद ने बीजेपी पार्षद पर जूता फेंकने की कोशिश की

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.