ताज़ा खबर
 

राजस्थान बजट 2017: जानिए आगामी वित्त वर्ष के बजट की 5 खास बातें

Rajasthan Budget 2017-18: राजस्थान में आगामी वित वर्ष 2017-18 के लिए 8 मार्च को बजट पेश कर दिया गया है।
वित्त वर्ष 2017-18 के लिए राज्य का बजट पेश करती हुईं सीएम वसुंधरा राजे। (Source: PTI)

राजस्थान में आगामी वित वर्ष 2017-18 के लिए आज (8 मार्च) को बजट पेश कर दिया गया है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे विधानसभा में यह बजट पेश किया। वहीं इस बजट में क्या खास जानते हैं उनके बारे में।

-बजट में 50 लाख रुपये से ज्यादा के टर्नओवर वाले कारोबारियों के लिए कम्पोजिशन स्कीम की घोषणा की गई है। इसमें कम्पोजिशन फीस की दर 2 फीसद की रखी गई है। वहीं मैन्युफैक्चरिंग इंडस्ट्री को फायदा पहुंचाने के लिए RIPS-2014 से मिलने वाले लाभ ऑइल मिलों तक पहुंचाने की बात कही गई है ताकि सरसो और तेल के बीज की खेती को प्रमोट किया जा सके।

-बिजली शुल्क, वाटर कनजर्वेशन सेस और अर्बन सेस से राज्य के मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन को छूट दी गई है। साथ ही सिगरेट पर VAT 15 फीसद बढ़ाया गया है।

-शिक्षा के क्षेत्र में 1,399 करोड़ रुपये अलॉट किए गए हैं। करौली और भरतपुर शहरों में नए इंजीनियरिंग कॉलेज बनाए जाएंगे।

-वहीं पेजयल योजनाओं पर सरकार 6000 करोड़ से ज्यादा खर्च करेगी। 2039 गांवों में शुद्ध पेयजल पहुंचाने की घोषणा हुई है। वहीं बिजली के लिए वर्तमान में कुल 7500 करोड़ रुपये से अधिक का अनुदान आगामी वर्ष में बढ़ाया जा रहा है।

-इसके अलावा अगले साल तक 190 शहरों को वाई-फाई से लैस किया जाएगा। वहीं धौलपुर क्षेत्र में जिला अस्पताल बनाने के लिए 100 करोड़ रुपये अलॉट किए गए हैं। साथ ही 88 करोड़ रुपये टूरिज्म पर खर्च किए जाएंगे। राज्य के टूरिज्म में 17.31 % की बढ़ोतरी हुई थी। वहीं पेंशनधारकों को बिल्स ऑनलाइन जमा कराने की सुविधा दी गई है। साथ ही ई-पेमेंट्स की सुविधा भी दी जाएगी।

दिल्ली बजट 2017-18: बजट में किसी नए टैक्स का प्रस्ताव नहीं, शिक्षा-स्वास्थय पर खास ध्यान

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.