ताज़ा खबर
 

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड परीक्षाओं के समय प्रदेश में रेस्मा लागू रहेगा

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षाएं आगामी 3 मार्च से प्रारंभ होगी तथा 29 मार्च को समाप्त होंगी। परीक्षाओं को सुचारु ढंग से संपन्न कराने के लिए जिला स्तर पर परीक्षा संचालन समिति गठित की जाएगी।
Author जयपुर | January 19, 2016 00:05 am
प्रो. देवनानी ने बताया कि बोर्ड परीक्षाओं के संवेदनशील एवं अति संवेदनशील केंद्रों पर पुलिस दल के साथ ही सीसीटीवी कैमरों और टेबलेट द्वारा विशेष निगरानी रखी जाएगी। (फाइल फोटो)

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षाएं आगामी 3 मार्च से प्रारंभ होगी तथा 29 मार्च को समाप्त होंगी। परीक्षाओं को सुचारु ढंग से संपन्न कराने के लिए जिला स्तर पर परीक्षा संचालन समिति गठित की जाएगी। परीक्षाओं के समय प्रदेश में रेस्मा लागू रहेगा। जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित इस समिति में सह अध्यक्ष पुलिस अधीक्षक तथा जिला शिक्षा अधिकारी सदस्य सचिव होंगे। समिति परीक्षाओं के संचालन संबंधित तमाम व्यवस्थाओं की निगरानी करेगी। शिक्षा राज्य मंत्री प्रो. वासुदेव देवनानी की अध्यक्षता में सोमवार यहां आयोजित राज्य स्तरीय उच्चाधिकार प्राप्त परीक्षा समिति की बैठक में यह जानकारी दी गई।

प्रो. देवनानी ने बताया कि बोर्ड परीक्षाओं के संवेदनशील एवं अति संवेदनशील केंद्रों पर पुलिस दल के साथ ही सीसीटीवी कैमरों और टेबलेट द्वारा विशेष निगरानी रखी जाएगी। जिलों में परीक्षा केंद्रों पर पुलिसकर्मियों एवं होमगार्ड की तैनाती करने के साथ ही वहां पर सुरक्षा की चाक चौबंद व्यवस्था रखी जाएगी।

उन्होंने बताया कि दौसा, करोली, सवाईमाधोपुर, बाड़मेर, जोधपुर, नागौर, सीकर व झुंझुनू जिलों के परीक्षा केंद्रोंं पर सुरक्षा के लिए विशेष प्रबंध किए जाएंगे। परीक्षाओं के दौरान जिलों में प्रश्न पत्र वितरण केंद्र पर नि:शुल्क सशस्त्र पुलिस की व्यवस्था रहेगी। शिक्षा राज्य मंत्री प्रो. वासुदेव देवनानी ने बताया कि उच्च माध्यमिक परीक्षाएं 3 मार्च 2016 को प्रारंभ होगी तथा 29 मार्च 2016 को समाप्त होंगी। इसी प्रकार माध्यमिक एवं प्रवेशिका परीक्षाएं 10 मार्च 2016 को प्रारंभ होगी तथा 21 मार्च 2016 को समाप्त होगी। परीक्षाओं के लिए प्रदेश में 5 हजार 310 परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे।

प्रो. देवनानी ने बताया कि सभी निजी विद्यालयों के परीक्षा केंद्रों पर माइक्रो आॅब्जर्वर भी नियुक्त किए जाएंगे। प्रश्नपत्र पुलिस थानों में रखवाने की व्यवस्था किए जाने के साथ ही जिलों में उपखंड मजिस्ट्रेट एवं वृत्ताधिकारी, तहसीलदार आदि संयुक्त सघन निरीक्षण भी करेंगे।

उन्होंने माध्यमिक शिक्षा बोर्ड परीक्षाओं की केंद्रीय मूल्याकंन व्यवस्था की सम्भावनाओं पर भी विचार किए जाने पर जोर देते हुए कहा कि परीक्षाओं में सभी स्तरों पर समन्वय रखते हुए बोर्ड यह सुनिश्चित करें कि सभी परीक्षा परीणाम 31 मई तक जारी हो जाएं। उन्होंने परीक्षाएं करवाने के साथ ही परीक्षकों को कॉपी जांचने तक अपने दायित्व का पूर्ण निर्वहन करने के भी निर्देश दिए।

उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी परीक्षाओं को पूर्ण गोपनीयता से करवाने में अपने अपने दायित्व का जिम्मेदारी से निर्वहन करें। शिक्षा राज्य मंत्री ने प्रश्न-पत्रों में बार कोडिंग की व्यवस्था अपनाए जाने पर भी जोर दिया। बैठक में बोर्ड अधिकारियों ने बताया कि इस बार 10 वीं के अंग्रेजी प्रश्नपत्र में बार कोडिंग की व्यवस्था अपनाई गई है। आगामी सत्र से प्रयास किया जाएगा कि सभी प्रश्न प्रत्रों में इस तरह की व्यवस्था लागू की जाए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.