April 23, 2017

ताज़ा खबर

 

पंजाव विस चुनाव: केजरीवाल बोले, ‘आप’ की सरकार बनी तो दलित होगा उपमुख्यमंत्री

केजरीवाल ने कहा, ‘आम आदमी पार्टी ऐसी पहली पार्टी ने जिसने दलित समाज के लिए अलग से घोषणा पत्र बनाया है।'

Author जालंधर | November 25, 2016 19:29 pm
पंजाब के संगरूर जिले के धुरी में एक रैली को संबोधित करते दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल। (PTI Photo/23 Nov, 2016)

पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने पर सूबे में दलित समाज के व्यक्ति को उपमुख्यमंत्री बनाने का ऐलान करते हुए आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शुक्रवार (25 नवंबर) को यहां कहा है कि पिछले दस साल में प्रदेश में दलितों के खिलाफ हुए अत्याचार की जांच के लिए एक विशेष जांच दल गठित किया जाएगा और पीड़ितों को न्याय दिलाया जाएगा। जालंधर जिले के गोराया में दलित घोषणापत्र जारी करते हुए आम आदमी पार्टी के संयोजक तथा दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा, ‘आम आदमी पार्टी ऐसी पहली पार्टी ने जिसने दलित समाज के लिए अलग से घोषणा पत्र बनाया है जिसमें दलित समाज के लोगों को न्याय तथा सत्ता में भागीदारी देने की व्यवस्था की गयी है।’ उन्होंने कहा, ‘प्रदेश में आम आदमी पार्टी की सरकार बनने पर पंजाब का उपमुख्यमंत्री दलित समाज से होगा। आम आदमी पार्टी पंजाब में वर्षों से हाशिये पर चल रहे दलित समाज को सत्ता में भागीदारी देगी जो आज तक किसी भी राजनीतिक दल ने नहीं किया।’

केजरीवाल ने कहा, ‘अंबेडकर और कांशीराम का सपना था कि दलितों को न्याय और बराबरी का दर्जा का मिले। हमने उनके सपने को पूरा करने के लिए ही यह घोषणापत्र तैयार किया है और इसमें दलित समाज को सत्ता में भागीदारी देने के लिए पार्टी दलित समुदाय के व्यक्ति को उपमुख्यमंत्री बनाएगी।’ आप संयोजक ने कहा, ‘पंजाब में दलितों के खिलाफ हुए अत्याचार की जांच के लिए एक विशेष जांच दल (एसआईटी) गठित की जाएगी जो पिछले दस साल के सभी मामलों की जांच करेगा और दोषी कितना भी बड़ा क्यों नहीं हो उसे जेल भेजा जाएगा।’ केजरीवाल ने कहा, ‘पिछले दस साल में दलितों के खिलाफ पंजाब में बहुतायत में अत्याचार हुए हैं। किसी का हाथ काट लिया गया तो किसी को मार दिया गया लेकिन उन्हें आजतक न्याय नहीं मिल पाया है। दलित समुदाय को न्याय दिलाने के लिए ही विशेष जांच दल गठित की जाएगी।’

उन्होंने आरोप लगाया, ‘बादलों (मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और उनके पुत्र सुखबीर सिंह बादल) ने पूरे पंजाब में नशा फैला दिया है। राज्य में आप की सरकार बनने पर एक महीने में नशे की आपूर्ति को बंद कर देंगे। छह महीने के भीतर युद्ध स्तर पर क्लिनिक तैयार कर प्रभावितों का इलाज शुरू करा दिया जाएगा और उन्हें मुख्यधारा में लाया जाएगा।’ उन्होंने यह भी कहा, ‘किसानो का कर्ज दो साल के भीतर माफ कर दिया जाएगा और पंजाब के किसानों को पूरी तरह कर्जमुक्त किसान बनाया जाएगा।’ केजरीवाल ने कहा कि दलित घोषणापत्र में बहुत सी बातें कही गयी है। इनमें पंजाब के सरकारी स्कूलों को दिल्ली के सरकारी स्कूलों के तर्ज पर विकसित किया जाएगा। अस्पतालों में चिकित्सकों की भर्ती एवं दिल्ली की तर्ज पर सभी इलाज और जांच मुफ्त कर दिये जायेंगे और इसका सीधा फायदा दलित, गरीब और वंचित समुदाय को मिलेगा। ‘जय भीम’ के उद्घोष के साथ अपना भाषण शुरू करते हुए केजरीवाल ने कहा, ‘दलित समाज के लिए घर की व्यवस्था की जाएगी और पांच साल के आप की सरकार में उन्हें समाज में बराबरी का दर्जा दिलवाया जाएगा। उन्होंने लोगों से अपील की कि वह यहां से कसम खा कर जाये कि एक व्यक्ति 100 लोगों को आप की सरकार बनाने के लिए तैयार करेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 25, 2016 7:29 pm

  1. R
    Ramesh Sharma
    Nov 25, 2016 at 4:00 pm
    He has spoiled the politics by free water, electricity promises and now Dalit . Free promises are like air castles. India is dreaming to be world power and such personalities are dragging it backwards. A person who has no respect for country is not worth trusting.
    Reply
    1. R
      Rajendra Vora
      Nov 26, 2016 at 6:00 am
      दलित मुख्यमंत्री तो मायावती भी बानी थी. और उसने कितने दलितों का भला किया ये सभी जानते हे. मुख्यमंत्री अक्कलवाला हो कोई केजरीवाल के जैसा नहीं तो भी बहोत हे. अगर तुम जातपात में विश्वास नहीं करते तो ये बोलना तुम्हे शोभा नहीं देता. और मुझे ये तो बताओ की दलित क्या होता हे. उसकी अलग पहचान क्यों बना रहे हो. या आप चाहते हो की वह कभी मुख्यधारा से नहीं जुड़े.
      Reply
      1. A
        Arvind
        Nov 26, 2016 at 2:16 am
        Kajaribai panjab me dalit ko kuch denahi hai to C M bananeke soch, Punjab me abhi election ki der hai aur election me kya hoga e malum nahi to dalit ka sochana durki bat hai lekin Delhi me Aap ki sarakar hai vahan aap estifa dekar koi Dalit ko C M banado to sabako lagega tumako real me Dalit she pyar hai aur koi election me kishiko koi vada karaneki jarurat nahi rahegi. Aapko mera suzav bahot achha lava hoga.
        Reply

        सबरंग