December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

नाभा जेल से फरार कैदियों में से एक ने फेसबुक पर लिखा- भोपाल एनकाउंटर की तरह मारना चाहती है पुलिस!

रविवार सुबह नाभा जेल पर पुलिस की वर्दी में कुछ हथियारबंद लोगों ने हमला करके खालिस्तान लिबरेशन फ्रंट के प्रमुख हरमिंदर मिंटू समेत पांच कैदियों को भगा ले गए।

Author November 27, 2016 20:59 pm
जेल से कैदियों के भागने की घटना के बाद पंजाब सरकार ने महानिदेशक (जेल) को निलंबित कर दिया। (Photo Source: Indian Express/Harmeet Sodhi)

पटियाला की नाभा जेल से फरार छह कैदियों में से एक कुलप्रीत सिंह उर्फ नीता का फेसबुक पेज दोपहर 1.11 बजे अपडेट किया गया है। फेसबुक पर की गई पोस्ट में कहा गया है कि पुलिस कथित रूप से भोपाल एनकाउंटर की तर्ज पर हमारा एनकाउंटर करना चाहती है। पुलिस का कहना है कि यह पोस्ट नीता के भाई द्वारा भी की जा सकती है, लेकिन साथ ही उन्होंने इस संभावना से भी इनकार नहीं किया कि कहीं इस पोस्ट को नीता ने खुद ही तो नहीं लिखा।

फेसबुक पर रोमन स्क्रिप्ट में पंजाबी में लिखी गई पोस्ट में कहा गया है, ‘पुलिस भोपाल एनकाउंटर की तर्ज पर ड्रामा खेल रही है। इन लड़कों के भागने की कोई वजह नहीं दिख रही है। इनके केस में कोई सबूत नहीं है। 1-2 साल में बरी हो जाते। यह कोई चुनावी स्टंट भी हो सकता है। हमें हमारे लड़के सही सलामत वापस दे दो। पुलिस किसी पर भी फर्जी केस कर सकती है। पहले भी मेरे भाई और मेरे पिता पर झूठा केस किया था। हमारे पास सबूत हैं। पुलिस की चाल है, ऐसे लड़के नहीं भाग सकते। पुलिस ड्रामा कर रही है। किसी भी लड़के को कुछ भी हुआ तो पुलिस का कसूर होगा। इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।’ इस पोस्ट पर कई लोगों ने गुस्सा निकाला है तो वहीं कईयों ने समर्थन किया है।

बता दें, रविवार सुबह नाभा जेल पर पुलिस की वर्दी में कुछ हथियारबंद लोगों ने हमला करके खालिस्तान लिबरेशन फ्रंट के प्रमुख हरमिंदर मिंटू समेत पांच कैदियों को भगा ले गए। पुलिस ने बताया कि वे 10 लोग पुलिस की वर्दी पहनकर जेल में घुसे थे और उन्होंने लगभग 100 राउंड फायर किए थे। बाकी जिन लोगों को वे लोग ले गए उनका नाम गुरप्रीत सिंह, विक्की सिंह गंडोरा, नितिन देओल और विक्रमजीत सिंह विक्की है। भागने वालों में दो आतंकी हैं।

जेल से कैदियों के भागने की घटना के बाद पंजाब सरकार ने महानिदेशक (जेल) को निलंबित कर दिया और नाभा जेल के अधीक्षक एवं उपाधीक्षक को बर्खास्त कर दिया एवं इसकी जांच के लिए एक विशेष कार्यबल गठित किया। जेल से भागे कैदियों का पता लगाने के लिए एक तलाशी अभियान छेड़ा गया है। पंजाब सरकार ने फरार कैदियों की सूचना देकर उनकी गिरफ्तारी कराने वाले को 25 लाख रूपए का इनाम देने की घोषणा की। वहीं कांग्रेस पंजाब अध्यक्ष अमरिंदर सिंह ने नाभा जेल से कैदियों के भागने की घटना में बादल सरकार के शामिल होने का आरोप लगाते हुए कहा कि इससे कानून और व्यवस्था के पूरी तरह पटरी से उतरने की बात स्पष्ट हो गयी है और विधानसभा चुनावों से पहले राज्य में फिर से आतंकवाद पैदा होने का भय उत्पन्न हो गया है। साथ ही कांग्रेस ने पंजाब के गृहमंत्री सुखबीर बादल से इस्तीफा भी मांगा है।

साथ ही पंजाब के गृहमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि इसके पीछे पाकिस्तान का भी हाथ हो सकता है।

वीडियो में देखें- कांग्रेस का आरोप- इसके पीछे सरकार का हाथ

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 27, 2016 8:59 pm

सबरंग