ताज़ा खबर
 

पंजाब: दलित युवक की पेड़ से बांधकर पिटाई, पंखा चुराने का लगा था आरोप

सुनीता ने कहा कि उसके मकान मालिक देबा ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर टिक्का की पिटाई कर उससे जबरन जुर्म कबूल करवाया।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

पंजाब में एक दलित युवक के साथ मारपीट करने का मामला सामने आया है। यह मामला बटाला के भु्ल्लर गांव का है जहां पर 9 सितंबर को मकान मालिक ने पंखा चुराने के आरोप में 30 वर्षीय टिक्का मसीह की पेड़ से बांधकर पिटाई कर दी। इस घटना का टिक्का के मकान मालिक देबा सिंह और उसके दोस्तों ने एक वीडियो भी बनाया जिसको बाद में सोशल नेटवर्किंग साइट पर पोस्ट कर दिया गया। टिक्का की पत्नी सुनीत के अनुसार इस घटना के बाद से ही उसका पति लापता है। सुनिता ने दावा किया है कि उसने सदर पुलिस थाने में इस मामले की शिकायत दर्ज करानी चाही लेकिन पुलिस ने न केवल केस दर्ज करने से इनकार कर दिया, साथ ही उसके पति को ढूंढने का प्रयास भी नहीं किया।

इस घटना को पांच दिन बीत चुके हैं लेकिन पुलिस इस मामले में कोई भी उचित कार्रवाई नहीं कर रही है। इसके बाद सुनीता ने मीडिया से संपर्क कर इस मामले की जामकारी दी। सुनीता ने कहा कि उसके मकान मालिक देबा ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर टिक्का की पिटाई कर उससे जबरन जुर्म कबूल करवाया। सुनीता ने कहा कि इस घटना की जानकारी जैसे ही मुझे मिली मैं तुरंत 1300 रुपए लेकर घटनास्थल पर पहुंची। मैंने पंखे की कीमत चुका दी फिर भी देबा मेरे पति को अपने साथ ले गया और कहने लगा कि वो टिक्का को सबक सिखाने के लिए अपने साथ लेकर जा रहा है। मेरे पति तब से ही घायब हैं और जब मैंने देबा से उनके बारे में पूछा तो वह कोई भी संतुष्ट करने वाला जवाब नहीं दे पाया।

वहीं जब इस बारे में स्थानीय थाने के एसएचओ मुख्तियार सिंह से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैंने बुधवार को ही यहां का कार्यभार संभाला है। हिन्दुस्तान टाइम्स के अनुसार हमने दोनों पार्टियों को बुलाया है और पूरी जांच करने के बाद जो भी आरोपी होगा उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी। बटाला के एसपी ओपिंद्रजीत सिंह गुमान ने कहा कि हमें इस मामले की कोई जानकारी नहीं थी लेकिन इसके सामने आने के बाद हम उचित कार्रवाई करेंगे।

देखिए वीडियो 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग