May 26, 2017

ताज़ा खबर

 

कॉलेज स्टूडेंट ने पीएम नरेंद्र मोदी से की फरियाद- गर्लफ्रेंड से मेरी शादी कराओ

बता दें कि ग्रीवंस (शिकायतों) से जुड़े मामलों की मॉनिटरिंग खुद पीएमओ करती है। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्ता में आने के बाद ग्रीवंस सेल को मजबूत और प्रभावी करने की दिशा में एक के बाद एक कई पहल की है।

स्टूडेंट ने पीएम मोदी से की अपील।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनका कार्यालय (PMO) सोशल मीडिया पर लोगों की समस्याओं को सुनने और उनका निराकरण के लिए जाना जाता है। पीएम मोदी ट्विटर और चिट्ठियां के जरिए आई शिकायतों को सुनते हैं। लोगों की समस्याओं की जिक्र वह अपने ‘मन की बात’ में भी करते हैं। लेकिन एक शख्स ने पीएम मोदी से ऐसी फरियाद की है, जिसके बारे में जानकर पीएम भी सोच में पढ़ जाएंगे। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक चंडीगढ़ के रहने वाले एक मैकेनिकल इंजीनियरिंग स्टूडेंट ने पीएम मोदी को चिट्ठी लिखकर गर्लफ्रेंड से शादी करवाने में मदद करने की मांग की है। लड़की की गर्लफ्रेंड पेशे से नर्स है। स्टूडेंट ने पीएम मोदी से अपने और गर्लफ्रेंड के परिवार के लिए वॉलेंटियर भेजने के लिए कहा है, जो कि उनके परिवारों को शादी के लिए राजी कर सके। पीएम मोदी को भेजी गई यह शिकायत पीएमओ के सेंट्रलाइज्ड जन शिकायत निवारण और मॉनिटरिंग सिस्टम पर प्रतिदिन आने वाले संदेशों में एक है।

चंडीगढ़ में शिकायत प्रणाली का संचालन करने वाले अधिकारियों का कहना है कि करीब 60 फीसदी शिकायतें और अपील फनी ही होते हैं और उनको देखकर चेहरे पर हंसी आ जाती है। पीएमओ के अधिकारियों का कहना है कि चंडीगढ़ प्रशासन को पीएमओ शिकायत निवारण सिस्टम से हर महीने 400 शिकायतें मिलती हैं, जिनमें से कई सारी पर्सनल रहती हैं। बता दें पहले भी इस प्रकार की शिकायतें सामने आ चुकी है, जिनकी पीएम मोदी से निवारण की मांग की जाती है। तीन तलाक के मुद्दे पर मुस्लिम महिलाओं द्वारा भी पीएम मोदी को खत लिखकर इसे खत्म करने की मांग की थी।

बता दें कि ग्रीवंस (शिकायतों) से जुड़े मामलों की मॉनिटरिंग खुद पीएमओ करती है। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सत्ता में आने के बाद ग्रीवंस सेल को मजबूत और प्रभावी करने की दिशा में एक के बाद एक कई पहल की है। पीएमओ की ओर से जारी गाइडलाइंस के अनुसार डीओपीटी (डिपार्टमेंट ऑफ पर्सनेल ऐंड ट्रेनिंग) अलग-अलग मंत्रालयों और विभागों को मिलने वाली शिकायतें और उसके निष्पादन के ट्रेंड पर डीटेल रिपोर्ट नियमित अंतराल पर पीएमओ को सौंपती है। फिर पीएमओ इनका रिव्यू करती है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 7, 2017 1:51 pm

  1. N
    Nitin
    May 8, 2017 at 2:21 pm
    Dekhte hain hogi pyar ki jeet ya nahin?
    Reply

    सबरंग