ताज़ा खबर
 

पंजाब में सफेद रावण पर हुई महाभारत, 36 घायल

कांग्रेस ने इस बार इसे चिट्टा रावण (सफेद) का नाम दिया गया। प्रतीक के रूप में मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल समेत के फोटों लगाए गए।
Author लुधियाना | October 12, 2016 09:20 am
पंजाब के मुख्‍यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और उनके बेटे व डिप्‍टी सीएम सुखबीर सिंह बादल।

दशहरे पर रावण का सफेद पुतला जलाने को लेकर मंगलवार को शिरोमणि अकाली दल (शिअद) और कांग्रेस कार्यकर्ताओं में हुई भिड़ंत में तीन दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए।
दोनों दलों ने एक दूसरे पर हमले के लिए उकसाने का आरोप लगाया है। चंडीगढ़ मार्ग पर वर्धमान चौक पर सोमवार रात को ही दोनों दलों के समर्थकों में विवाद जैसी स्थिति बन गई थी। कांग्रेस ने इस बार दशहरे पर बुराई के प्रतीक रावण का सफेद पुतला जलाने की योजना बनाई थी जबकि पारंपरिक तौर पर यह काले परिधान में होता है।

कांग्रेस ने इस बार इसे चिट्टा रावण (सफेद) का नाम दिया गया। प्रतीक के रूप में मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल समेत के फोटों लगाए गए। कांग्रेस ने सफेद रंग को हेरोइन का प्रतीक और इस काले कारोबार को चलाने वालों के तौर पर उक्त फोटो इस्तेमाल किए थे। शिअद कार्यकर्ताओं को जब इसका पता चला तो वे वहां जमा हो गए।  दोनों दलों के समर्थकों में हुए झगड़े में कई घायल हो गए जिन्हें आसपास के अस्पतालों में भर्ती कराना पड़ा। कांग्रेस विधायक भारत भूषण आशू ने झगड़े में उनकी पार्टी के एक दर्जन लोगों को चोटें लगी हैं। इनमें गुरप्रीत गोगी और रविंदर गिल की हालत गंभीर है।

आरोप लगाया कि शिअद कार्यकर्ताओं ने सफेद रावण के पुतले को तोड़ दिया और गाड़ियों को क्षतिग्रस्त कर दिया। इनमें कांग्रेस सांसद रवनीत बिट्टू का वाहन भी था। शिकायत पर पुलिस ने जब कोई कार्रवाई नहीं की तो हम लोग पुलिस आयुक्त के आवास गए और वहां धरना लगाया। विवाद मंगलवार तड़के तक जारी था। शिअद नेता तरसेम भिंडर के मुताबिक वह अपने समर्थकों के साथ थाने में कांग्रेस कार्यकर्ताओं के खिलाफ थाने में शिकायत देने जा रहे थे। उसी दौरान सांसद बिट्टू अपने समर्थकों के साथ थाने के बाहर खड़े थे। आरोप लगाया कि कांग्रेस समर्थकों के हमले में दो दर्जन शिअद कार्यकर्ता घायल हो गए। उन्होंने कहा, दशहरा असत्य पर सत्य की जीत का प्रतीक है, इसमें रावण का पुतला जलाया जा सकता है लेकिन इसकी आड़ में किसी को राजनीति करना शोभा नहीं देता। हेरोइन के प्रतीक सफेद रंग का रावण बनाना और उसमें मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री के फोटो लगाना इसे हमारे समर्थक सहन नहीं कर सकते। जिला पुलिस आयुक्त ने बताया, झगड़े में तीन दर्जन लोगों को चोटें आई हैं। मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद पुलिस इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर आवश्यक कार्रवाई करेगी।

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग