June 29, 2017

ताज़ा खबर
 

OROP सुसाइड: पूर्व सैनिक का अंतिम संस्कार आज, परिवार से मिलने गांव जाएंगे राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल

मामले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, "मोदी जी ने झूठ बोला कि OROP लागू हो गया। मोदी जी सैनिकों से माफी मांगें। आज मोदी जी के फर्जी राष्ट्रवाद की पोल खुल गई।"

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल। (File Photo)

दिल्ली के जंतर मंतर पर बुधवार को वन रैंक वन पेंशन को लेकर सुसाइड करने वाले पूर्व सैनिक रामकिशन ग्रेवाल का अंतिम संस्कार गुरुवार को उनके गांव में किया जाएगा। आत्महत्या करने वाले सूबेदार रामकिशन हरियाणा में भिवानी जिले के गांव बामला के निवासी थे। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल गुरुवार को पूर्व सैनिक के गांव जाकर पीड़ित परिवार से मिलेंगे। अरविंद केजरीवाल ने खुद ट्वीट कर बताया कि वह गांव जाकर पूर्व सैनिक के परिवार से मिलेंगे।

वहीं टीएमसी के मुख्य प्रवक्ता डेरेक ब्रायन गांव पहुंचकर परिवार वालों से मुलाकात कर चुके हैं। डेरेक ब्रायन ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि बुधवार को अस्पताल में परिवार से मिलने की कोशिश कर रहे राहुल गांधी और अरविंद केजरीवाल को मिलने दिया जाना चाहिए था। उन्होंने कहा कि कल (बुधवार) को जो भी हुआ उसमें परिवार का दोगुना नुकसान हुआ है। उन्होंने अपने परिवार के सदस्यों को तो खोया ही, साथ ही उनके साथ मारपीट भी की गई। ऐसा नहीं होना चाहिए था।

वीडियो: OROP को लेकर पूर्व सैनिक के सुसाइड पर चढ़ा सियासी पारा, हिरासत में लिए जाने के बाद छोड़े गए राहुल गांधी

बता दें कि दिल्ली के जंतर-मंतर पर सैनिकों के लिए वन रैंक वन पेंशन के मामले पर प्रदर्शन कर रहे पूर्व फौजी रामकिशन ग्रेवाल ने सुसाइड कर लिया था। इसके बाद मामले पर दिनभर सियासी संग्राम चला। परिवार से मिलने अस्पताल पहुंचे कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल और डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया को मिलने नहीं दिया गया और पुलिस ने तीनों को हिरासत में ले लिया था। हालांकि बाद में तीनों को छोड़ दिया गया। इस पूरे मामले पर विपक्ष ने मोदी सरकार के खिलाफ हमलावर रुख अपना लिया है। मामले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, “मोदी जी ने झूठ बोला कि OROP लागू हो गया। मोदी जी सैनिकों से माफी मांगें। आज मोदी जी के फर्जी राष्ट्रवाद की पोल खुल गई।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 3, 2016 9:48 am

  1. K
    khanchandani
    Nov 3, 2016 at 11:22 am
    दो वैले neta
    Reply
    1. S
      sanjay
      Nov 3, 2016 at 6:36 am
      आज मोदीजी को विरासत में खाली घाटे का खजाना मिला है सरकार के पास आय के स्रोत्र बिलकुल नगण्य है और सरकार चलाने हेतु प्रशासनिक व्यय भारी मात्रा है उसके बाद विकास के कार्यो हेतु धन नहीं के बराबर बचता है!इसके बावजूद भी मोदीजी ने अपने विवेक से जनता पर बोझ डाले बिना सरकारी खजाना भरा है ! इस संकट के दौर में भी सातवे वेतन को लागू किया,अन्यथा इस संकट की घड़ी में और कोई होता तो आपातकाल जैसे हालात देश को बताता लेकिन मोदीजी ने सुरक्षा कारणों एवम विदेशी पूंजी व्यापार हेतु मोन रहे !
      Reply
      1. S
        sanjay
        Nov 3, 2016 at 6:08 am
        जबसे मोदीजी को भारी बहुमत से जनता ने प्रधानमंत्री बनाया है तबसे कांग्रेस और सभी धर्मनिरपेक्ष पार्टिया पुराने पाप जो ये लोग करके छोड़ गए है जैसे भरस्टाचार महंगाई बेरोजगारी राजस्व घाटा मुद्रा स्फीति आयात निर्यात असन्तुलन लाइंसेंस प्रणाली आंतरिक और बाहरी सुरक्षा कश्मीर समस्या संवैधानिक संस्था प्रशासनिक ढांचा शिक्षा नीति एनजीओ आदि! अब ये लोग हर समस्या का तत्काल निराकरण इस सरकार से चाहते है और परेशान जनता जो अशिक्षित है ना समझ है उसकी इस नासमझ को मोहरा बनाकर ये लोग राजनीती कर रहे है !
        Reply
        1. V
          vinod singh
          Nov 4, 2016 at 4:48 am
          ये राम किशन तो राहु और केजरीवाल के ही जैसा था गान डू साल मर गया और सैनिको का नाम डूबा गया.ये राहुल तो मरो की ही राजनीति करता है. दादी, पापा, बाबा, बेमुला, रामकिशन और जज मरेंगे.ये केजरीबाल जिसकी खुद की ही जनसभा में आदमी ने फांसी लगा ली और ये भाषण देता रहा. साले मदार चो द.
          Reply
          सबरंग