ताज़ा खबर
 

फरीदकोट में हिंसात्मक प्रदर्शन के बाद बंद रहे पंजाब के कई इलाके

पंजाब में दो दिन पहले हुए सिख के पवित्र ग्रंथ के पन्ने फाड़ने को लेकर भड़की हिंसा के चलते बीते दिन गुरूवार को पंजाब के की कई इलाके बंद रहे।
Author नई दिल्ली/ फरीदकोट | October 16, 2015 10:58 am

पंजाब में दो दिन पहले हुए सिख के पवित्र ग्रंथ के पन्ने फाड़ने को लेकर भड़की हिंसा के चलते बीते दिन गुरूवार को पंजाब के की कई इलाके बंद रहे। गौरतलब है कि बुधवार को धार्मिक ग्रंथ के अपमान को लेकर यहां दो समुदायों के बीच हंगामा खड़ा हो गया। क्षेत्र में भड़की हिंसा को रोकने के लिए पुलिस ने भी बल प्रयोग किया और बाद में आंसू गैस के गोले भी छोड़े।

मामला धार्मिक ग्रंथ के पन्ने फाड़े जाने को लेकर था, जिसके बाद दो समुदाओं के बीच हिंसा भड़क गई। पन्ने फाड़े जाने के विरोध में कुछ लोगों ने हाई-वे पर प्रदर्शन किया। जिसके बाद से बीते दिन क्षेत्र में आवाजाही बाधित रही औऱ सभी वीकल्स की सर्विस बाधित कर दी गई।

(File Photo) (File Photo)

पंजाब में फरीदकोट सहित बठिंदा, मुल्लनपुर, जैतन, मुक्तसर और मोंगा जिले के इलाके पूरी तरह से बंद रहे। हिंसा के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने पवित्र ग्रंथ के अपमान और उसके बाद भड़की हिंसा की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं।

तो वहीं पंजाब के उप मुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल ने बुधवार को घोषणा की कि फरीदकोट जिले के बरगरी गांव में गुरु ग्रंथ साहिब का अपमान करने वालों की जानकारी देने वाले को एक करोड़ का ईनाम दिया जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.