ताज़ा खबर
 

VIDEO में तमंचेे-तलवार से लैस ‘गौरक्षकों’ ने दी चेतावनी-हिंदू राज आने के बाद क्‍या होगा

गौरक्षा दल पंजाब के नाम से बने एक फेसबुक पेज से अपलोड वीडियो में गौरक्षा के नाम पर हिंसा को जायज ठहराने के लिए इसे बेहद ग्‍लैमरस ढंंग से फिल्‍माया गया है।
Author नई दिल्‍ली | August 11, 2016 19:23 pm
यह फोटो पंजाब गौरक्षा दल नाम से बने फेसबुक पेज पर अपलोड की गई है। इस पेज पर वीडियो भी शेयर किया गया है।

गौरक्षा दल पंजाब के नाम से बने एक फेसबुक पेज पर अपलोड एक वीडियो वायरल हो गया है। इसमें कथित गौरक्षकों को बेहद ग्‍लैमरस ढंग से फिल्‍माया गया है। वीडियो में लंबी चौड़ी कद-काठी के लोग धारदार हथियारों और बंदूकों के साथ नजर आते हैं। वीडियो में गोरक्षा और इसको लेकर की जाने वाली हिंसा को जायज ठहराने के लिए इसे बेहद ग्‍लैमरस अंदाज से शूट किया गया है। वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गौरक्षा दल के चीफ सतीश कुमार के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

क्‍या दिखाया गया वीडियो में
वीडियो का टाइटल Untold story of cow saving है। इसमें लंबे-तगड़े लोग हथियार लहराते और गोहत्‍या रोकने की तैयारियों में जुटे नजर आते हैं। गोरक्षा पर बनाए गए इस वीडियो में बैकग्राउंड में पंजाबी गाना भी चल रहा होता है। इसमें चेतावनी दी गई है कि ‘हिंदुओं का राज आने’ के बाद क्‍या होगा। वीडियो में दिखता है कि कुछ युवकों का एक समूह भगवा कुर्ता पहने शख्‍स की अगुआई में एक बूचड़खाने पहुंचकर गोहत्‍या रोकता है।

क्‍या कहना है पुलिस का
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पटियाला के एसएसपी गुरमीत चौहान ने कहा कि पुलिस वीडियो के प्रामाणिकता की जांच कर रही है। इनमें कथित गोरक्षक बूचड़खानों को जा रहे ट्रकों को रोककर ड्राइवरों से हिंसा करते नजर आते हैं। पुलिस के मुताबिक, पंजाब गौरक्षा दल पूर्व में भी ऐसे उकसाने वाले वीडियोज बनाने के लिए कुख्‍यात रहा है। बता दें कि हाल ही में पीएम नरेंद्र मोदी ने फर्जी गोरक्षकों पर निशाना साधा था। उन्‍होंने कहा था कि देश में कुछ असामाजिक लोग गोरक्षा के नाम पर अपने असामाजिक कामों को ढकने में लगे हुए हैं।

नीचे देखें वीडियो

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. Y
    Yogesh Saxena
    Aug 13, 2016 at 9:42 am
    गोरक्षकस को अपने जिला अधिकारी से ई कार्ड बनवाना होगा तब कहीं ये गायों के लिए कुछ काट सकेंगे वार्ना उस तान्या की सर्कार बिना ई कार्ड वाले नकली गोराक्षस को जेल भी करा सकती है.
    (0)(0)
    Reply